स्वास्थ्य

विराट कोहली के इन वर्कआउट से रहोगे हमेशा फिट

विराट कोहली (Virat Kohli) इन दिनों टी-20 कैप्टेंसी से अपने संन्यास के ऐलान को लेकर चर्चा में हैं। इसके कारण तो कई हैं लेकिन यहां हम क्रिकेट की नहीं बल्कि कोहली की फिटनेस को लेकर बातचीत कर रहे हैं। यह कहना गलत नहीं होगा कि कोहली दुनियाभर के सबसे फिट एथलीटों में से एक हैं। सभी ने उन्हें मैदान पर आक्रामक तरीके से खेलते हुए, बेजोड़ ऊर्जा से विकेटों के बीच दौड़ते हुए, रन-मशीन की तरह टन स्कोर बटोरते हुए देखा है। लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि विराट कोहली जैसी बॉडी पाने के लिए क्या करना पड़ता है? यहां हम आपको कुछ टिप्स बता रहे हैं जिन्हें आजमाकर आप भी उनकी तरह फिट और हेल्दी रह सकते हैं।

​वर्ल्डवाइप फिटनेस आइकन हैं कोहली

32 वर्षीय बल्लेबाज, जो दुनिया भर में फिटनेस आइकन (worldwide fitness icon) हैं, लेकिन पहले वे कभी इंटेंस वर्कआउट और कंपाउंड्स प्रैक्टिस के लिए इतने क्रेजी नहीं थे जितने कि अब हैं। विराट का वेट लॉस ट्रांसफॉर्मेशन रातों-रात नहीं हुआ। उन्होंने लो कार्ब डाइट, गुड फैट, हाई इंटेसी वाला कार्डियो और लगातार प्रैक्टिस की है जो जिसकी बदौलत वे कैप्टन बन सके। अगर आप भी विराट कोहली द्वारा अप्रूव्ड फिटनेस की उन प्रैक्टिस को फॉलो करते हैं तो आपको भी अपना ट्रांसफॉर्मेशन करने में मदद मिल सकती है।

​रनिंग से बर्न होती है सबसे ज्यादा कैलोरी

अगर आप कोहली की तरह अच्छे शेप में दिखना चाहते हैं, तो बुनियादी बातों से शुरुआत करना महत्वपूर्ण है। वजन कम करने के लिए आपको अपने वर्कआउट में रनिंग को शामिल करना बहुत जरूरी है। वजन घटाने के लिए कई एक्सरसाइज में रनिंग एक महत्वपूर्ण है और आसान भी है। रनिंग करने से आपकी मजबूत मांसपेशियों का निर्माण होने में मदद मिलती है और जल्दी वेट लॉस भी होता है। ट्रेडमिल पर दौड़ने से एक घंटे में औसतन 705 से 865 कैलोरी बर्न होती है और यहां तक कि दिमाग को भी शांत रहता है।

​एक हाथ से पुशअप्स

विराट कोहली ने फिटनेस मानकों के मामले में अन्य सभी खिलाड़ियों के लिए एक बेंचमार्क स्थापित किया है। दिल्ली में जन्मे दिग्गज खिलाड़ी के अनुसार, एक हाथ की पुशअप्स एक्सरसाइज से बेहतर कोई भी आपकी बाहों, कंधों और छाती को बेहतर आकार नहीं देगा। आपके आत्मविश्वास में एक बड़ा बढ़ावा देने के अलावा, यह व्यायाम आपके शरीर के लिए भी अद्भुत काम करती है क्योंकि इसे करने से एक साथ आपकी बांहों, कंधों, छाती, कोर की मांसपेशियों और यहां तक कि आपकी पीठ को भी मजबूती मिलती है।

​अपने क्रंचेस को अगले स्तर पर ले जाएं

हो सकता है कि आपके पास स्टार क्रिकेटर जैसी समृद्ध जीवनशैली न हो लेकिन आप विराट कोहली की तरह सिक्स-पैक एब्स पा सकते हैं। क्रंचेस या सिट-अप्स करने के लिए किसी भी फैंसी जिम उपकरण की आवश्यकता नहीं होती है। आपको बस कुछ जगह चाहिए और फिट रहने के लिए दृढ़ संकल्प की जरूरत है।

रोजाना 10 मिनट का मध्यम क्रंच सेशन लगभग 54 कैलोरी बर्न कर सकता है। यह आपको कोर की मांसपेशियों को मजबूत करने, मुद्रा में सुधार करने और आपके शरीर की गतिशीलता और लचीलेपन को बढ़ाने में मदद करता है।

​स्वीमिंग करने से घटेगी पेट की चर्बी

जब व्यायाम की बात आती है जो आपको कुछ हफ्तों में वजन कम करने में मदद कर सकती है, तो हो सकता है कि स्वीमिंग यानी तैराकी आपकी सूची में टॉप पर न हो लेकिन जॉगिंग या दौड़ने के विपरीत वाटर बेस्ड वर्कआउट पेट की चर्बी घटने के लिए सबसे अच्छी एक्सरसाइज है। क्योंकि स्वीमिंग करने से आपको अपनी मांसपेशियों का अधिक उपयोग करने के लिए मजबूर होना पड़ता है।

स्वीमिंग में सिर्फ 30 मिनट के ब्रेस्टस्ट्रोक से लगभग 367 कैलोरी बर्न हो सकती है जबकि फ्रीस्टाइल में तैरने से लगभग 404 कैलोरी बर्न होती है। लोग कई बार दोहराए जाने वाले व्यायाम से ऊब जाते हैं लेकिन कई स्ट्रोक हैं जो आपको अच्छे मूड में रखेंगे।

​हैवी वेट-लिफ्ट्स आपको बनाएंगे फिट

अगर आप भी भारतीय कोहली की तरह शानदार बॉडी पाना चाहते हैं, तो वेट से शर्माएं नहीं। बस जितना हो सके उतना भारी उठाने का लक्ष्य तय करें। हैवी वेट लिफ्टिंग के जरिए आप कुछ ही दिनों में कोहली जैसी मसल्स और टोंड पैर हासिल कर लेंगे। जैसा कि विराट ने कहा, 'कड़ी मेहनत का कोई शॉर्टकट नहीं होता', वेट ट्रेनिंग के लिए भी निरंतर प्रयास और बहुत धैर्य की आवश्यकता होती है।

अच्छा शेप पाने के लिए आपको सप्ताह में दो बार लाइट वेट लिफ्टिंग की तुलना में हैवी वेट लिफ्टिंग ट्रेनिंग का सेशन अच्छे रिजल्ट दे सकता है। आपको रेगुलर बेस पर केवल 20-30 मिनट की हैवी वेट लिफ्टिंग करनी चाहिए, जो आपकी बॉडी में कमाल का ट्रांसफॉर्मेशन ला सकती है।

Related Articles

Back to top button
Close