चामिका करुणारत्ने को श्रीलंका क्रिकेट ने किया एक साल के लिए सस्पेंड  – KakkaJee Dotcom
खेल - कूद

चामिका करुणारत्ने को श्रीलंका क्रिकेट ने किया एक साल के लिए सस्पेंड 

श्रीलंका
श्रीलंका ने अपने क्रिकेट खिलाड़ी चमिका करुणारत्ने को एक साल के लिए सस्पेंड कर दिया है क्योंकि श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड की जांच के बाद उन्हें प्लेयर एग्रीमेंट का उल्लंघन करने का दोषी पाया गया। हालांकि यह उल्लंघन किस प्रकार का है इसके बारे में सार्वजनिक नहीं किया गया है लेकिन ये हाल में ऑस्ट्रेलिया में टी20 वर्ल्ड कप के दौरान की बात है। 26 वर्षीय ऑलराउंडर करुणारत्ने पर आरोपों के लिए दोषी ठहराए जाने के बाद 5000 डॉलर का जुर्माना भी लगाया गया था। 

एक एसएलसी मीडिया बयान में कहा गया, "मिस्टर करुणारत्ने द्वारा किए गए उल्लंघनों की गंभीरता को देखते हुए, जांच पैनल ने अपनी रिपोर्ट के द्वारा एसएलसी की एक्जिक्यूटिव कमेटी को सिफारिश की है कि खिलाड़ी को आगे उल्लंघन से बचने के लिए कड़ी चेतावनी दी जाए और ऐसी सजा दी जाए जिसका प्रभाव उसके क्रिकेट करियर पर ना हो।" 

 चूंकि बैन एक सस्पेंशन के तौर पर है तो करुणारत्ने को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खेलने की अनुमति है, लेकिन अफगानिस्तान के खिलाफ उनकी आगामी घरेलू सीरीज के लिए श्रीलंका की वनडे टीम से उनका हटना तय है। हालांकि स्क्वॉड को अभी जाहिर नहीं किया गया है लेकिन श्रीलंका के खेल मंत्री से बात करने के बाद इसको सार्वजनिक कर दिया जाएगा। अगर कोई ऐसा बोल रहा है…': भारत का अगला टी20 कप्तान बताए जाने पर हार्दिक पांड्या ने दी ये प्रतिक्रिया यह भी समझा जाता है कि करुणारत्ने का हालिया खराब रिकॉर्ड भी उनको बाहर करने के पीछे कारण है क्योंकि वे टी20 फॉर्मेट में खास नहीं कर पा रहे थे। 

इस साल 21 पारियों में उन्होंने 98.25 की स्ट्राइक रेट से 169 रन बनाए हैं, जबकि गेंद के साथ उन्होंने 22 पारियों में 39.14 की औसत से 14 विकेट लिए हैं। उन्होंने वनडे में बेहतर प्रदर्शन किया है। इस साल की शुरुआत में ऑस्ट्रेलिया के श्रीलंका दौरे के दौरान दो प्लेयर ऑफ द मैच पुरस्कार जीते थे। Ads by श्रीलंका क्रिकेट फिलहाल खिलाड़ियों के बर्ताव से जूझ रहा है। करुणारत्ने को यह सजा तब मिली जब उनकी टीम के साथी धनुष्का गुणतिलका की ऑस्ट्रेलिया में यौन उत्पीड़न के आरोप में गिरफ्तारी के बाद आई है। गुणातिलका फिलहाल जमानत पर बाहर हैं।
 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close