छत्तीसगढ़

दूसरों के घरों में तांक झांक नहीं करना चाहिए-भूपेश

रायपुर
पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह  के बयान का पलटवार करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के बयान की आज जमकर चर्चा सियासी गलियारे में हो रही है। बघेल ने दो टूक कहा कि दूसरों के घरों में अनावश्यक तांक झांक नहीं करना चाहिए। जिनकों उन्ही के पार्टी के लोग नकार चुके हैं उन्हे दूसरे दल के बारे में बोलने का अधिकार नहीं हैं। अगले चुनाव में रमन सिंह और उनके बेटे दोनों को टिकट नहीं मिलने वाली।

दरअसल टी एस सिंहदेव निजी कार्यक्रम में शामिल होने के लिए दिल्ली उड़े कि फिर से बयानबाजी शुरू हो गई। डा.रमनसिंह का बयान भी इसी संदर्भ में आया था। इधर मुख्यमंत्री बघेल को जब मीडिया ने सवाल किया तो उन्होने पुराने दिनों की याद ताज कराते हुए कहा कि  मैं जब भी मीडिया से बात करता था तो रमन सिंह कहते थे भूपेश सो कर उठकर तैयार होते हैं और सीधे मीडिया से बात करते हैं। उनके पास कोई काम नहीं है। उस समय जो बात वे मेरे लिए बोले थे, वही बात आज उनके लिए लागू है। उनके पास कोई काम नहीं है। मुख्यमंत्री ने कहा, पुरंदेश्वरी देवी पहले ही कह चुकी हैं, यह हमारा चेहरा नहीं है। उसके बाद इन्होंने कहा, मुख्यमंत्री पद के बहुत से चेहरे हैं, जिसमें एक छोटा चेहरा मैं भी हूं। पुरंदेश्वरी ने उसको भी नकार दिया है। मुख्यमंत्री ने कहा, हमको बहुत दुख होता है कि वे 15 साल तक मुख्यमंत्री रहे हैं। हम आज भी उनको नेता मानते हैं, लेकिन उन्हीं के दल के लोग उन्हें नेता नहीं मानते। ऐसे में उनके बारे में कोई बात कहना मैं उचित नहीं समझता।
पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के एक बयान पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा, रमन सिंह ख्याली पुलाव न पकाएं। वे अपने दल और अपनी स्थिति को देखें, किसी के घर मे तांकझांक ना करें। पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने सोमवार सुबह ढाई-ढाई मुख्यमंत्री वाली चर्चा पर एक बयान दिया था।

Related Articles

Back to top button
Close