स्वास्थ्य

शैंपू छोड़ मिट्टी से धोना शुरू करें अपने बाल

मार्केट में ऐसे न जाने कितने प्रॉडक्ट्स की भरमार है, जो बालों से जुड़ी हर समस्या को दूर करने व उन्हें ज्यादा स्वस्थ बनाने का दावा करते हैं। लोग इन पर जमकर पैसे भी खर्च करते हैं। हालांकि, कई बार हाइ-फाइ प्रॉडक्ट्स की जगह साधारण से नुस्खे बालों के लिए ज्यादा फायदेमंद साबित होते हैं। इसी तरह के नुस्खों में से एक मिट्टी से हेयर वॉश करना भी है, जिसे हमारे देश में न जाने कितनी पीढ़ियों से महिलाएं अपनाती आ रही हैं। यहां तक कि विदेश में भी बाल धोने का ये तरीका काफी पॉप्युलर हो चुका है। (सभी तस्वीरें: इंडियाटाइम्स)

ये 3 मिट्टी हैं सबसे ज्यादा पॉप्युलर

हमारे देश में तो आज भी महिलाएं गांव की शुद्ध मिट्टी से बाल धोती हैं, लेकिन शहरों में बसे लोगों को ऐसी क्ले मिल पाना मुश्किल है। ऐसे में वे मार्केट से इसे खरीद सकते हैं। हेयरवॉश के लिए मुख्यतौर पर तीन तरह की क्ले रैजॉल/गैजॉल (Rhassoul/Ghassoul), बेंटोनाइट (Bentonite) और केओलिन (Kaolin) पॉप्युलर हैं। इन तीनों को हेयर मास्क के तौर पर भी इस्तेमाल किया जाता है।

स्कैल्प और बालों की सफाई

केमिकल बेस्ड प्रॉडक्ट जहां स्कैल्प को क्लीन करने के साथ ही उसे डैमेज भी कर देते हैं, तो वहीं क्ले ये काम बिना किसी नुकसान के करती है। मिट्टी गंदगी और टॉक्सिन्स को खींच लेती है और पानी से जब इसे धोया जाता है तो बाल व स्कैल्प पूरी तरह से क्लीन हो जाते हैं। बालों में लगे तेल की चिकनाई तक इससे एक वॉश में दूर हो जाती है।

मुलायम और चमकदार बनते हैं बाल

क्ले में कई तरह के मिनरल्स और नूट्रीअन्ट्स होते हैं, जिससे बालों को स्वस्थ बनाए रखने में मदद मिलती है। हेयर जब हेल्दी होंगे तो हेयरफॉल कम होता जाएगा और उनकी चमक धीरे-धीरे बढ़ती जाएगी। दूसरी ओर हार्ष केमिकल बेस्ड प्रॉडक्ट्स यूज नहीं करने पर बाल फ्रिजी या डैमेज नहीं होंगे, जिससे उनकी कोमलता बरकरार रहेगी।

बालों का pH लेवल रहेगा मेनटेन

बालों का नैचरल pH लेवल करीब 4.5 होता है। शैंपू इसे डैमेज कर सकते हैं। वहीं मिट्टी से बाल धोने पर इस पीएच लेवल को मेनटेन किया जा सकता है। pH बालों और स्कैल्प को बैक्टीरिया और फंगस से बचाता है। ये नैचरल मॉइस्चर व ऑइल को लॉक कर हेयर को जड़ों से मजबूत बनाते हैं, जिससे बाल झड़ने की समस्या भी दूर होती है।

इस बात का रखें ख्याल

हर प्रॉडक्ट की तरह मिट्टी को लेकर भी कुछ चीजों का ख्याल रखना जरूरी है। मार्केट से ली जाने वाली क्ले का पैच टेस्ट जरूर करें, ताकि आपको पता चल सके कि कहीं उसके तत्व आपको एलर्जिक रिएक्शन तो नहीं करेंगे। साथ ही में अगर एक-दो वॉश के बाद आपके बाल इससे डैमेज होते दिखते हैं, तो इस्तेमाल रोक दें। अगर किसी एक्सपर्ट से आप क्ले वॉश ब्रैंड का सुझाव लें, तो ये सबसे बेहतर रहेगा।

Related Articles

Back to top button
Close