देश

J&K: 370 हटाने के बाद 765 पत्थरबाज अरेस्‍ट

श्रीनगर
केंद्र सरकार ने मंगलवार को संसद के शीतकालीन सत्र के दौरान एक सवाल का जवाब देते हुए बताया कि कश्मीर घाटी में अनुच्छेद 370 का विशेष दर्जा खत्म होने के बाद कुल 765 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। केंद्रीय गृह राज्य मंत्री जी. किशन रेड्डी ने अपने जवाब में बताया कि कश्मीर घाटी में पत्थरबाजी की घटनाओं और लोक शांति भंग करने की घटना में शामिल रहने के कारण इन सभी लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

मंत्री ने ये भी कहा कि 5 अगस्त को अनुच्छेद 370 के अंत के बाद से कश्मीर घाटी के हालातों में सुधार हुआ है और पत्थरबाजी की घटनाएं कम हुई हैं। मंगलवार को लोकसभा में एक प्रश्न के जवाब में मंत्री जी. किशन रेड्डी ने कहा कि 5 अगस्त 2019 को अनुच्छेद 370 का अंत होने के बाद से 15 नवंबर तक पत्थरबाजी और कानून व्यवस्था प्रभावित करने के कुल 190 केस दर्ज किए गए। इन मामलों में वांछित कुल 765 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया। इससे पूर्व 1 जनवरी 2019 से लेकर 4 अगस्त 2019 तक जम्मू-कश्मीर में ऐसे 361 केस दर्ज किए गए थे।

मंत्री ने कहा कि सरकार ने जम्मू-कश्मीर में हालात को सामान्‍य बनाने और पत्थरबाजी की घटनाओं को रोकने के लिए विभिन्न प्रकार के कदम उठाएं हैं। सरकार काफी हद तक घाटी की स्थितियों को सामान्य बनाए रखने में सफल भी हुई है। गृह राज्य मंत्री ने यह भी कहा कि कश्मीर में स्थितियों को नियंत्रण में रखने के लिए उपद्रवी तत्वों की पहचान कर उन्हें गिरफ्तार किया है और कई लोगों को एहतियात के तौर पर भी हिरासत में रखा गया है।

१८ अलगाववादियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल
गृह राज्य मंत्री ने यह भी कहा कि विभिन्न एजेंसियों द्वारा की गई जांच में यह बात सामने आई है कि कश्मीर घाटी की कई संस्थाएं और अलगाववादी नेता जो कि हुर्रियत से जुड़े हैं, वह घाटी में पत्थरबाजी जैसी घटनाओं की साजिश रचने में शामिल रहे हैं। ऐसे में राष्ट्रीय जांच एजेंसी एनआईए ने ऐसे कुल 18 लोगों के खिलाफ अब तक जांच के बाद आरोप पत्र दाखिल कर दिया है।

34 लाख से अधिक पर्यटक पहुंचे जम्मू-कश्मीर
कश्मीर घाटी में इस साल पर्यटकों के आगमन से जुड़े एक सवाल का जवाब देते हुए मंत्री जी. किशन रेड्डी ने जम्मू-कश्मीर में बीते 6 महीने में आए पर्यटकों की संख्या की भी जानकारी दी। मंत्री ने कहा, 'जम्मू-कश्मीर प्रशासन के मुताबिक राज्य में बीते 6 महीने में कुल 34 लाख 10 हजार 219 पर्यटक आए हैं, जिसमें 12 हजार 934 विदेशी नागरिक भी शामिल हैं।' इस अवधि में राज्य को पर्यटन के क्षेत्र से करीब 25.12 करोड़ रुपये की आमदनी भी हुई है।

Related Articles

Back to top button
Close