व्यापार

साल 2022 की पहली तिमाही से शुरू होगा जेट एयरवेज का घरेलू परिचालन

नई दिल्ली
कर्ज में डूबी जेट एयरवेज एक बार फिर से उड़ान भरने को तैयार है। कंपनी के मुताबिक जेट एयरवेज की फ्लाइट साल 2022 की पहली तिमाही में फिर से घरेलू उड़ान भरेंगी। इसके अलावा अगले वर्ष की अंतिम तिमाही तक छोटी दूरी की  अंतरराष्ट्रीय उड़ानों का परिचालन भी शुरू होगा। इसकी जानकारी जेट एयरवेज के नए मैनेजमेंट जालान कारलॉक कंसोर्शियम ने दी है। जालान कारलॉक ने एक और नई जानकारी देते हुए कहा कि एयरलाइन का मुख्यालय अब मुंबई के बजाय दिल्ली में होगा।

जालान कलरॉक कंसोर्टियम के प्रमुख सदस्य मुरारी लाल जालान ने कहा कि जेट एयरवेज 2.0 का उद्देश्य साल 2022 की पहली तिमाही तक घरेलू परिचालन को फिर से शुरू करना है और अगले वर्ष की अंतिम तिमाही तक छोटी दूरी की अंतरराष्ट्रीय उड़ानों का परिचालन भी शुरू होगा।

बता दें कि यूएई के कारोबारी मुरारी लाल जालान लंदन की जालान कॉर्लाक कंसोर्टियम के वरिष्ठ सदस्य हैं और प्रस्तावित जेट एयरवेज के गैर कार्यकारी सदस्य हैं। जैन का कहना है कि हमारी योजना तीन साल में 50 से अधिक विमानों के परिचालन की है, जो 5 साल में 100 के भी ऊपर पहुंच जाएगी।

वहीं कैप्टन गौड़ ने कहा कि जेट एयरवेज ने पहले ही 150 से अधिक पूर्णकालिक कर्मचारियों को काम पर रखा है और 1000 से अधिक कर्मचारियों को वित्त वर्ष 2021-22 में सभी श्रेणियों में शामिल करना किया जाएगा।

जालान कारलॉक ने कहा कि जेट एयरवेज की पहली उड़ान दिल्ली-मुंबई रूट पर होगी। बता दें कि नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (एनसीएलटी) ने दो साल बाद इस साल जून में जेट एयरवेज के लिए जालान कलरॉक कंसोर्टियम की योजना को मंजूरी दी थी।

Related Articles

Back to top button
Close