मध्य प्रदेश

जबलपुर कटनी में सहारा के ऑफिसों में EOW के छापे

जबलपुर
 निवेशकों के साथ की गई धोखाधड़ी के मामले में सहारा इंडिया के तीन ऑफिसो मे राज्य आर्थिक अपराध अनुसंधान ब्यूरो ने छापामार कार्रवाई की है। गुरुवार की दोपहर से शुरू इस छापामार कार्रवाई में कई महत्वपूर्ण सुराग मिलने की उम्मीद है।
अब पूर्व मंत्री के विरोध में उतरे अधिकारी-कर्मचारी संगठन, FIR की मांग, ये है मामला

निवेशकों के साथ की गई धोखाधड़ी के मामले में सहारा इंडिया के प्रमुख सुब्रतो राय सहित 16 लोगों के खिलाफ राज्य आर्थिक अपराध अनुसंधान ब्यूरो ने कुछ दिन पहले अलग-अलग मामले दर्ज किए गए थे। इनमें जबलपुर के रांझी और गोरखपुर व कटनी का सहारा इंडिया का ऑफिस के अधिकारी शामिल थे। इसके अलावा कुछ अन्य अज्ञात लोगों के खिलाफ भी मामला दर्ज किया गया था। इन्हीं मामलों के लिए राज्य आर्थिक अपराध अनुसंधान ने गुरुवार की दोपहर से इन तीनों ऑफिसों में छापामार कार्यवाही की है। यह कार्रवाई अभी चल रही है और ईओडब्ल्यू को पूरी उम्मीद है कि इस कार्रवाई में कई महत्वपूर्ण सुराग मिल सकते हैं।

 

दरअसल ब्यूरो का जो अनुमान है उसके हिसाब से अकेले जबलपुर जिले में लगभग 25000 ऐसे निवेशक हैं जिन्होंने सहारा कोऑपरेटिव सोसाइटी में निवेश किया लेकिन उनका पैसा वापस नहीं मिल पाया। यही हाल कटनी के लगभग 15000 निवेशकों का है। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री और गृहमंत्री यह साफ निर्देश दे चुके हैं कि किसी भी चिटफंडी पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाए और इसीलिए ईओडब्ल्यू ने भी पर्याप्त अनुसंधान करने के बाद मामला दर्ज किया था जिसके बाद अब यह कार्रवाई चल रही है। ईओडब्ल्यू की इस कार्रवाई की हर जगह सराहना की जा रही है और निवेशकों को भी उम्मीद बंधी है कि इस कार्यवाही के माध्यम से अब उनका पैसा वापस मिल पाएगा।

 

Related Articles

Back to top button
Close