छत्तीसगढ़

किसान पंजीयन डाटा बेस की कार्यवाही समय-सीमा में करने कलेक्टर के निर्देश

रायपुर
कलेक्टर रायपुर ने जिले के सभी तहसीलदारों और मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक को किसान पंजीयन के संबंध में प्राप्त प्रस्तावो के समयबद्ध निराकरण तथा किसान पंजीयन डाटा बेस में समय-सीमा में कार्यवाही करने के निर्देश दिए है।

उल्लेखनीय है कि राज्य शासन द्वारा वर्तमान वर्ष 2021-22 में किसान पंजीयन हेतु नियत तिथि 10 नवम्बर तक प्राप्त आवेदनो के पंजीकरण तथा तकनीकी त्रुटि में सुधार हेतु 20 नवम्बर तक समय-सीमा के वृद्धि की गई थी। तत्पश्चात समिति स्तर पर अंतिम रूप से पंजीकृत किसानों की सूची प्रकाशित कर दावा-आपत्ति प्राप्त कर आवेदन प्राप्त होने पर उसका निराकरण 25 नवंबर 2021 तक किये जाने एवं तत्पश्चात अंतिम सूची प्रकाशित किये जाने के निर्देश दिये गये है।

निदेर्शों के अनुसार आॅनलाईन तहसील मॉड्यूल से की जाने वाली कार्यवाही इस तरह है। जिले में दिनांक 10 नवम्बर तक प्राप्त नवीन किसान पंजीयन के आवेदन के पंजीकरण की कार्यवाही की जाएगी। इसी तरह भुईया पोर्टल में दर्ज गिरदावरी डेटा के अनुसार किसान पंजीयन में रकबा संशोधन/अपडेशन की कार्यवाही, वारिसान पंजीयन की कार्यवाही, संयुक्त खाता वाले किसान पंजीयन की कार्यवाही, निरस्त किये जाने योग्य पंजीकरण के निरस्तीकरण की कार्यवाही, अधिया/ रेगहा संबंधी पंजीयन की कार्यवाही, डुबान संबंधी पंजीयन की कार्यवाही की जाएगी।

इसी तरह अपैक्स बैंक के द्वारा की जाने वाली कार्यवाही है, समिति से ग्राम की मैपिंग में संशोधन एवं सुधार की कार्यवाही और पंजीकृत कृषकों के उपार्जन केन्द्र संशोधन/ परिवर्तन से संबंधित कार्यवाही। उन्होंने बताया है कि तहसील मॉड्यूल में संदर्भित आदेशानुसार संशोधन बाबत विकल्प  23 नवंबर को शाम 5 बजे से उपलब्ध हो जावेगा। प्राप्त आवेदनों पर निदेर्शानुसार निराकरण कर तीन दिनों में उसका पालन प्रतिवेदन प्रेषित करें।

Related Articles

Back to top button
Close