छत्तीसगढ़

सिनेमा वाले बाबू व नीली छतरी वाले गुरुजी ने कलेक्टर से सौजन्य भेट की

कोरिया
कलेक्टर श्याम धावड़े से कोरोना काल में अपने नवाचारों से पूरे देश में नीली छतरी वाले गुरुजी रुद्र प्रताप राणा और सिनेमा वाले बाबू के नाम से चर्चित हुए अशोक लोधी ने उनके चेम्बर में मंगलवार कोऔ सौजन्य मुलाकात की। कलेक्टर ने उनके नवाचारों की प्रशंसा करते हुए उन्हें बधाई एवं शुभकामनाएं दीं। इस दौरान राज्य शिक्षक सम्मान पुरस्कार से सम्मानित जिले से शासकीय उच्चतर माध्यमिक शाला लालपुर की प्राचार्य श्रीमती सुदीप्ता शर्मा एवं शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला पोड़ीडीह की प्रधानपाठक श्रीमती मटिल्डा टोप्पो भी उपस्थित रहीं।

5 सितंबर शिक्षक दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल ने राजधानी रायपुर स्थित आर डी तिवारी स्वामी आत्मानंद शासकीय उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम विद्यालय आमापारा के नए स्वरूप में लोकार्पण के अवसर पर वहां आयोजित किए गए शिक्षा मड़ई प्रदर्शनी में प्रदेशभर से आए नवाचारी शिक्षकों के कोरोना काल में किए गए नवाचार का अवलोकन किया। इस शिक्षा मड़ई प्रदर्शनी में कोरिया जिले के प्रसिद्ध नवचारी शिक्षक सिनेमा वाले बाबू अशोक सिंह लोधी एवं छतरी वाले गुरुजी रूद्र प्रताप सिंह राणा को भी अपना नवाचार दिखाने का अवसर प्राप्त हुआ। ज्ञात हो कि कोरोना संक्रमण के खतरे को देखते हुए सामाजिक दूरी हेतु इन दोनों शिक्षकों ने अभिनव पहल करते हुए बच्चों को सतत रूप से शिक्षा से जोड़े रखने के लिए अनोखे नवाचार का सृजन किया था। जिसमें वह बिना बच्चों के संपर्क में आए अपने नवाचारी मॉडल से बच्चों को पढ़ाने में सफल हुए थे। जिसकी देश विदेश में काफी चर्चा हुई थी और वे सिनेमा वाले बाबू एवं छतरी वाले गुरु जी के नाम से प्रसिद्ध हुए।

Related Articles

Back to top button
Close