छत्तीसगढ़

5 साल से पाकिस्तान की जेल में बंद है छत्तीसगढ़ का युवक

जांजगीर चांपा
छत्तीसगढ़ के जांजगीर-चांपा का रहने वाला एक युवक पांच साल से पाकिस्तान की जेल में बंद है। जिले के मालखरौदा क्षेत्र के पिहरीद गांव? निवासी युवक के परिवार 2014 उसे छुड़ाने गुहार लगा रहे है, लेकिन अभी तक कोई पहल नहीं हो सकी है। पीड़ित परिवार ने विदेश मंत्रालय को भी पत्र लिखकर गुहार लगाई, लेकिन बीते 5 साल में पाकिस्तान में बंधक युवक के नहीं छूटने से परिजन निराश हो गए हैं।

लगातार दफ्तरों के चक्कर काट रहे हैं, लेकिन कुछ भी पहल नहीं हो रही है। युवक की मां की आंखें, अपने बेटे के इंतजार में पथरा रही है, लेकिन सिस्टम के आगे, 5 साल से यह परिवार बेबस होकर रह गया है। दरअसल, साल 2014 में पिहरीद गांव सम्मेलाल जाटवर, अपने परिवार के साथ जम्मू के नवाशहर के ईंट भ_े में कमाने-खाने गया था। यहां से सम्मेलाल का 19 साल का बेटा घनश्याम जाटवर, 14 अप्रेल 2014 को कहीं चला गया। युवक मानसिक रूप से कमजोर है। काफी खोजबीन की, पता नहीं चला तो वापस घर पिहरीद आ गए।

इसके बाद मालखरौदा थाने से पता चला कि लापता घनश्याम जाटवर, अमृतसर के फौजी कैम्प में है। जब परिजन अमृतसर के फौजी कैम्प गए तो युवक को छोड?े की बात कही। यहां यह बात भी सामने आई कि युवक घनश्याम जाटवर, पाकिस्तान बार्डर पार कर गया है। मामले को लेकर पीड़ित परिवार ने तत्कालीन विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को चि_ी लिखी और गुहार लगाते हुए युवक घनश्याम जाटवर को छुड़ाने की मांग की। 4 साल बीतने के बाद भी कोई पहल नहीं हुई। इसके बाद तात्कालीन सांसद कमला पाटले को जब पीड़ित परिजन ने समस्या से अवगत कराया तो सांसद ने विदेश मंत्री को चि_ी लिखकर उचित पहल की मांग की। सांसद की चि_ी का नतीजा यह रहा कि परिजन को पता चला, युवक घनश्याम जाटवर, पाकिस्तान के इस्लामाबाद की जेल में बन्द है।इस जानकारी के बाद पीड़ित परिवार, युवक को वापस लाने के लिए दफ्तरों के चक्कर काट रहा है।

Related Articles

Back to top button
Close