छत्तीसगढ़

34 लाख उपभोक्ताओं का हुआ बिजली बिल हॉफ

रायपुर
कांग्रेस की सरकार बनते ही 400 यूनिट तक बिजली का उपयोग करने पर बिजली बिल हाफ करने की घोषणा की गई थी और अब तक करीब 34 लाख उपभोक्ताओं को इसका लाभ भी मिल चुका है। प्रदेश में करीब 50 लाख उपभोक्ताओं की संख्या है।

भाजपा सदस्य पुन्नूलाल मोहिले ने जानना चाहा कि प्रदेश में 4 सौ यूनिट तक बिजली उपयोग करने वाले उपभोक्ताओं की संख्या कितनी है और कितने उपभोक्ताओं का बिजली बिल हॉफ किया गया है? इसके जवाब में मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रदेश के 4 सौ यूनिट तक बिजली का उपयोग करने वाले वाले उपभोक्ताओं की संख्या 49 लाख 87 हजार है। वर्तमान में 33 लाख 89 हजार उपभोक्ताओं को हॉफ बिजली बिल योजना का लाभ दिया जा रहा है।

उन्होंने यह भी बताया कि ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में बिजली की घोषित कटौती नहीं की जा रही है, लेकिन 1 जनवरी 2019 से 31 अक्टूबर 2019 तक की अवधि में तकनीकी कारणों में राज्य में बिजली की मांग और उपलब्धता में असंतुलन की स्थिति उत्पन्न होने पर छत्तीसगढ़ राज्य नियामक आयोग द्वारा अनुमोदित ग्रुप वार फीडरों में, जो ग्रामीण और शहरी क्षेत्र में आते हैं में, 278 घंटे 58 मिनट बिजली कटौती की गई है।

मुख्यमंत्री ने यह भी बताया कि किसानों को कृषक जीवन ज्योति योजना अंतर्गत 5 अश्व शक्ति तक के एक पंप कनेक्शन के लिए निर्धारित सीमा में नि:शुल्क विद्युत की पात्रता है। एक वित्तीय वर्ष में 3 अश्व शक्ति तक के कृषि पम्प के लिए 6 हजार यूनिट तक और 3 से 5 अश्व शक्ति तक के कृषि पम्प के लिए 75 सौ यूनिट बिजली की नि:शुल्क पात्रता है। अनुसूचित जाति एवं जनजाति के प्रत्येक कृषकों के लिए 5 अश्व शक्ति के पंप कनेक्शन के लिए बिजली आपूर्ति पूरी तरह नि:शुक्ल है।

Related Articles

Back to top button
Close