देश

24 तक ED कस्टडी में भेजा गया हुमायूं मर्चेंट

मुंबई
ड्रग माफिया इकबाल मिर्ची के खास दोस्त हुमायूं मर्चेंट को मनी लॉन्ड्रिंग के एक मामले में मंगलवार को प्रवर्तन निदेशालय द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया था। इसके बाद हुमायूं को पीएमएलए कोर्ट में पेश किया गया। कोर्ट ने 24 अक्टूबर तक हुमायूं मर्चेंट की कस्टडी प्रवर्तन निदेशालय को दी है। बता दें कि इकबाल मिर्ची अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के लिए काम करता था और हुमायूं मर्चेंट का मिर्ची से गहरी दोस्ती थी।

मर्चेंट मिर्ची का बचपन का दोस्त था और कामकाज में भी उसका काफी नजदीकी व्यक्ति था। वह मिर्ची के लिए प्रॉपर्टी से जुड़ा व्यापार संभालता था। उस पर 170 करोड़ रुपये की मनी लॉन्ड्रिंग आरोप है। वह रियल एस्टेट डिवेलपर्स से डील करता था। उसने वह डील भी की थी जिसमें 9 मिलियन दिरहम में मिर्ची के परिवार ने दुबई में फाइव स्टार होटेल खरीदा था। बताया जाता है साउथ बॉम्बे में अंडरवर्ल्ड इमारतें खरीदकर रियल एस्टेट को बेच देता है और इस नेक्सस से मर्चेंट अच्छी तरह से जुड़ा है।

डी कंपनी से भी नजदीकी
मर्चेंट की मिर्ची की पत्नी हजरा और डी कंपनी से भी नजदीकी बताई जाती है। वह डील्स करने के लिए मुंबई से लंदन के बीच आता-जाता था। वह वर्ली की तीन प्रॉपर्टीज 220 करोड़ रुपये में खरीदने वाली कंपनी सनब्लिंक से भी जुड़ा था। इस डील में से 170 करोड़ रुपये मिर्ची को मिले थे। सनब्लिंक रियल एस्टेट पर ईडी की नजर इसलिए पड़ी क्योंकि उसे 2186 रुपये को लोन डीएचएफएल से मिला था। डीएचएफएल के परिसर में शनिवार को छापा पड़ा था।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close