देश

150 KMPH की रफ्तार-मुश्किलें अपार, देखें कैसे बढ़ रहा अम्फान

 
नई दिल्ली 

देश में इस वक्त कोरोना वायरस का महासंकट जारी है, लेकिन इस बीच आज एक और नई चुनौती दस्तक देने वाली है. बंगाल की खाड़ी से उठा चक्रवाती तूफान अम्फान आज भारत से टकरा सकता है. पश्चिम बंगाल, ओडिशा समेत अन्य तटीय राज्यों में इसको लेकर अलर्ट जारी किया गया है, गांवों को खाली करवा लिया गया है.

मंगलवार देर रात से ही चक्रवाती तूफान अम्फान ने सुपर साइक्लोन का रूप ले लिया है, जिसकी वजह से 100 किमी. प्रति घंटा से भी तेज रफ्तार की हवाएं चल रही हैं.
 
मौसम विभाग की मानें, तो बुधवार दोपहर तक इसकी रफ्तार और भी तेज़ होगी और ये बंगाल-ओडिशा के इलाकों से टकराएगा. बंगाल और ओडिशा की तरफ से तूफान किस तेज़ी से बढ़ रहा है, आप यहां ट्रैकर में देखकर इसका अंदाज़ा लगा सकते हैं… (सुबह 07.45 AM का ट्रैकर)
 

वहीं अगर तैयारियों की बात करें तो दोनों राज्यों के तटीय इलाकों में एनडीआरएफ की टीमों के साथ-साथ स्थानीय प्रशासन भी मुस्तैदी से तैनात है. कई लाख लोगों को अबतक सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा चुका है.

पश्चिम बंगाल, ओडिशा और पड़ोस के राज्यों में मंगलवार रात से ही बारिश शुरू हो गई थी, जो बुधवार तक और भी बढ़ सकती है. बंगाल के मेदनीपुर, नॉर्थ-साउथ परगना, हावड़ा और हुगली जैसे जिलों में अलर्ट बढ़ाया गया है.
 
भारतीय मौसम विभाग की ओर से जारी तस्वीर
वहीं, ओडिशा में तीन लाख लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया है. बालासोर समेत आसपास के जिलों में अलर्ट है, एनडीआरएफ की टीमें तैनात हैं. दोनों राज्यों में चालीस से अधिक एनडीआएरएफ की टीमें हैं, जबकि कई अन्य टीमों को रिजर्व पर रखा गया है.

बीते दिन केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी इस साइक्लोन को लेकर दोनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों से फोन पर बात की थी और केंद्र की ओर से हर संभव मदद पहुंचाने का भरोसा दिया था. उससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी केंद्रीय एजेंसियों के साथ मिलकर तैयारियों का जायजा लिया था.

Tags

Related Articles

Back to top button
Close