व्यापार

​ ऊबर की टैक्सी में अब अगली सीट पर सवारी नहीं

नई दिल्ली
ऊबर की टैक्सी में अगली सीट पर कोई सवारी नहीं बैठेगी। साथ ही यदि कोई ड्राइवर मास्क नहीं पहने हुए है, तो वह राइड शुरू नहीं कर पाएगा क्योंकि उसे राइड शुरू करने से पहले मास्क पहने हुए सेल्फी भेजनी होगी। यदि यात्रा के दौरान कोई ड्राइवर इसका पालन नहीं करता है तो आप राइड कैंसिल कर सकते हैं।

ऊबर इंडिया ने आज से कुछ नई सुविधाओं की घोषणा की। इसमें राइडर्स और ड्राइवर्स के लिए इंटरैक्टिव गो ऑनलाईन चैकलिस्ट, राइडर्स के लिए अनिवार्य मास्क पॉलिसी, ड्राइवर के लिए ट्रिप से पहले मास्क वैरिफिकेशन सेल्फी, और ट्रिप के बाद अपडेटेड फीडबैक प्रणाली और कैन्सिलेशन पॉलिसी शामिल हैं। उपभोक्ताओं को हर बार ऊबर का इस्तेमाल करने के दौरान नया अनुभव प्रदान करना इन फीचर्स का उद्देश्य है, ताकि सभी की सुरक्षा को सुनिश्चित की जा सके।

गो आनलाइन चेकलिस्ट
इससे पहले कि एक ड्राइवर ऑनलाईन आए, उनसे नए गो ऑनलाईन चैकलिस्ट के ज़रिए यह पूछ कर पुष्टि की जाएगी कि क्या उन्होंने सुरक्षा के सभी उपाय अपनाए हैं और क्या उन्होंने फेस मास्क पहना है। इसी तरह की चैकलिस्ट राइडर्स के लिए भी बनाई गई है। हर ट्रिप से पहले राइडर्स को पुष्टि करनी होगी कि उन्होन जरूरी ऐहतियात बरते हैं या नहीं, जैसे फेस मास्क पहनना और अपने हाथों को धोना या सैनिटाइज़ करना।

मास्क वैरिफिकेशन
ड्राइवर कोई ट्रिप स्वीकार करें, उनसे मास्क पहने हुए सेल्फी लेने के लिए कहा जाएगा। ऊबर की नई टेक्नोलॉजी इस बात को सत्यापित करेगी कि ड्राइवर ने मास्क पहना है।

सभी के लिए जवाबदेहीः हम फीडबैक के लिए नए विकल्प लेकर आए हैं, जिसमें यह भी शामिल है कि राइडर या ड्राइवर ने फेस मास्क या फेस कवर पहना था या नहीं।

अपडेटेड कैन्सिलेशन पॉलिसी
ड्राइवर और राइडर को ही यदि लगता है कि ट्रिप सुरिक्षत नहीं है तो वह ट्रिप को कैंसिल कर सकते हैं। इसमें उपयोगकर्ता ने मास्क या फेस कवर न पहना हो या सुरक्षा के किसी और उपायों का पालन नहीं किया जाना शामिल है। ऐसे में राइड कैंसिल करने का जो 50 रुपये काटा जाता है, वह इश्यू रेज करने पर 48 घंटे के अंदर लौटा दिया जाएगा।

नई सीट लिमिट
ऊबर राईड के दौरान ड्राइवर और राइडर के बीच उचित दूरी को सुनिश्चित करने के लिए अब अगली सीट पर सवारी को नहीं बिठाया जाएगा। यदि कोई राइडर ऐसा करने पर जोर देता है तो ड्राइवर ट्रिप कैंसिल कर सकता है। इसके साथ ही, एक कार में सिर्फ दो राइडर्स को बैठने की अनुमति दी जाएगी, और उन्हें पिछली सीट पर ही बैठना होगा।

क्या कहना है ऊबर का
ऊबर के ग्लोबल सीनियर डाइरेक्टर (प्रोजेक्ट मैनेजमेंट) सचिन कंसल का कहना है कि पिछले दो महीनों में हमारी ग्लोबल टेक एवं सेफ्टी प्रोडक्ट टीमें राइडर्स और ड्राइवर्स को नए उत्पादों का अनुभव प्रदान कराने के लिए कड़ी मेहनत कर रही हैं। अब, भारत में लॉकडाउन में धीरे-धीरे छूट दी जा रही है, ऐसे में ज़रूरी है कि अपने आप को सुरक्षित रखने और हर अगली ट्रिप को राइडर्स के लिए सुरक्षित बनाने हेतु सभी जरूरी ऐहतियात बरते जाएं। ये नए फीचर्स एवं नीतियां दुनिया भर में शुरू की जा चुकी हैं और हम सभी को सुरक्षित उत्पादों का अनुभव प्रदान कराने के लिए इनमें आवश्यकतानुसार संशोधन करते रहेंगे।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close