राजनीति

सेबों की भारी-भरकम माला से शिवकुमार का स्वागत, क्रेन से उठाकर पहनाई

बेंगलुरु

मनी लांड्रिंग केस में जमानत मिलने के बाद शनिवार को बेंगलुरु पहुंचे कर्नाटक के कांग्रेस नेता और पूर्व मंत्री डीके शिवकुमार का भव्य स्वागत हुआ. उनके स्वागत में 250 किलो के सेब की माला दो क्रेनों की मदद से उन्हें पहनाई गई. उनके स्वागत में जेडीएस नेता और पूर्व मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी भी मौजूद रहे.

दरअसल, मनी लांड्रिंग केस में डीके शिवकुमार को दिल्ली हाईकोर्ट ने 23 अक्टूबर को ही जमानत दे दी थी. कोर्ट ने उन्हें 25 लाख रुपये के निजी मुचलका भरने का निर्देश दिया. दिल्ली हाईकोर्ट ने उन्हें बिना अनुमति विदेश न जाने का भी निर्देश दिया. शिवकुमार को धन शोधन के मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने 3 सितंबर को गिरफ्तार किया था. ईडी मामले की जांच कर रहा है.

डीके शिवकुमार के बेंगलुरु पहुंचने से पहले उनके स्वागत की भव्य तैयारियां की गई. उनके स्वागत के लिए 250 किलो सेबों की माला तैयार की गई और उन्हें उठाने के लिए दो क्रेनों की मदद ली गई. इसके बाद एयरपोर्ट पर मौजूद हजारों कार्यकर्ता ने शिवकुमार का स्वागत किया. इस दौरान दो क्रेनों की मदद से शिवकुमार ने 250 किलो सेबों की माला पहनी.

बता दें कि शिवकुमार ने कर्नाटक में जनता दल (सेकुलर) और कांग्रेस की गठबंधन सरकार बनवाने में प्रमुख भूमिका निभाई थी. बुधवार को इससे पहले कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने तिहाड़ जेल जाकर शिवकुमार से मुलाकात की थी.

जमानत पर कोर्ट ने क्या कहा था?

न्यायमूर्ति सुरेश कैत ने कांग्रेस नेता को राहत देते हुए कहा कि शिवकुमार के विदेश भागने की आशंका नहीं है. उन्होंने यह भी कहा कि शिवकुमार सबूतों के साथ छेड़छाड़ नहीं कर सकते क्योंकि दस्तावेज जांच एजेंसियों के पास हैं. साथ ही यह दिखाने के लिए भी कोई सामग्री नहीं है कि उन्होंने गवाहों को प्रभावित किया है.

अदालत ने निर्देश दिया कि उन्हें 25 लाख रुपये के निजी मुचलके और इतनी ही राशि की दो जमानतों पर उन्हें रिहा किया जाए. प्रवर्तन निदेशालय ने शिवकुमार (57) को धनशोधन मामले में 3 सितंबर को गिरफ्तार किया था. जिसके बाद वह न्यायिक हिरासत के तहत तिहाड़ जेल में बंद थे. उन्होंने जमानत नहीं देने के निचली अदालत के फैसले को उच्च न्यायालय में चुनौती दी थी.

Tags

Related Articles

Back to top button
Close