धर्म - कर्म

सेफ दिवाली मनाने के आसान टिप्स

वैसे तो दिवाली खुशियों का त्यौहार है लेकिन अगर सावधानी न बरती जाए तो किसी भी समय कोई अप्रिय घटना हो सकती है। ऐसे में कैसे आप खुद को और अपने बच्चे को सेफ रख सकते हैं, ये बेहद जरूरी है। हम आपको बता रहे हैं कैसे आज आप अपनी दिवाली को हैपी और सेफ बना सकते हैं…

कपड़े के फेब्रिक का रखें ध्यान
त्योहार पर हम सभी अपने लिए कपड़े तो खरीदते ही हैं, लेकिन यह त्योहार है पटाखों का। ऐसे में आपके लिए यह बेहद जरूरी है कि आप कैसे फैब्रिक के कपड़े पहनें। दिवाली के दिन आप और आपके बच्चे कॉटन के कपड़े ही पहनें। किसी भी प्रकार के सिंथेटिक मटीरियल से खुद को और बच्चों को दूर रखें, क्योंकि कॉटन के कपड़ों में आग लगने की संभावना कम रहती है। इससे आप और आपका परिवार सुरक्षित रहेगा।

पटाखों की क्वॉलिटी हो बेहतर
वैसे तो बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए पटाखों से दूर ही रहें लेकिन अगर ग्रीन पटाखे खरीद भी रहे हों तो यह ध्यान रखें कि आप लीगल मैन्युफैक्चरर से ही पटाखे खरीदें। पटाखे की क्वॉलिटी के बारे में जानने के लिए आप ग्रीन पटाखे के पैकेट पर दिए क्यूआर कोड को स्कैन करके उसके बारे में जान सकते हैं। इससे आपको यह भी पता चल जाएगा कि जो पटाखे आपके बच्चे यूज कर रहे हैं, वह असली है भी या नहीं। इसके साथ ही आप पटाखे को फोड़ने से पहले सारे इंस्ट्रक्शन ध्यान से पढ़ें।

बच्चों को समझाएं
बच्चों को पटाखे फोड़ने से पहले उन्हें पटाखों के इस्तेमाल करने के तरीके के बारे में बताएं ताकि कोई समस्या न हो। बच्चों को घर के अंदर या दूसरों के घर के दरवाजों पर पटाखे फोड़ने से रोकें। बच्चे जब पटाखे फोड़ रहे हों तो उनके आसपास ही रहें, जिससे आप उन्हें बीच-बीच में समझाते रहें।

अग्निशमन की रखें जानकारी
आप जहां पटाखे फोड़ रहे हों, उसके आसपास के ही इलाके में अग्निशामक होना बहुत जरूरी है। आप दमकल केंद्र का नंबर भी नोट करके रखें। अगर यह ना हो तो अचानक लगने वाली आग को रोकने के लिए पानी भरी बाल्टी या रेत होनी चाहिए ताकि अगर आग लग जाए तो उसे कंट्रोल किया जा सके। आप अपने घर के आसपास पानी की बाल्टी या रेत का इंतजाम करके रखें।

बंद एरिया में न जलाएं पटाखे
पटाखे फोड़ते समय सबसे जरूरी बात है कि पटाखे कभी बंद जगह पर नहीं फोड़ना चाहिए, यह काफी खतरनाक साबित हो सकता है। पटाखे फोड़ने के लिए बच्चों को हिदायत दें कि पटाखे हमेशा खुली जगहों पर फोड़ें। किसी खाली पड़े घर में या चाहरदिवारी में पटाखों को न जलाएं।

इस्तेमाल पटाखों को फेंक दें
कई बार पटाखे को आग लगाने के बाद अगर वह नहीं जलते तो दोबारा उसको जलाने का प्रयास किया जाता है। ऐसा न करें क्योंकि यह आपके लिए ही नहीं बच्चे के लिए भी खतरनाक हो सकता है। ऐसे आप इस्तेमाल किए हुए पटाखों को तुरंत सावधानी से फेंक दें। आप इन पटाखों को पानी की बाल्टी में भी डाल सकते हैं या गर्म पटाखों पर बालू भी फेंक सकते हैं ताकि इससे बच्चे या किसी और को नुकसान न पहुंचे।

फर्स्ट एड किट
दिवाली की रात हर किसी के लिए खुशियों की रात होती है। लेकिन क्योंकि इस दिन पटाखे और दीये भी जलाए जाते हैं, तो असावधानी पर चोट आदि का खतरा भी रहता है। ऐसे में अपने घर पर आप या आपके बच्चे जहां भी पटाखे फोड़ कर दिवाली मना रहे हों वहां फर्स्ट एड किट जरूर होना चाहिए ताकि अगर कोई पटाखों से थोड़ा-बहुत घायल होता है, तो उसका घर पर ही तुरंत प्रारंभिक इलाज हो सके।

Related Articles

Back to top button
Close