छत्तीसगढ़

मुख्यमंत्री ने गर्भवती माताओं को दी सुपोषण टोकरी और बच्चों को कराया भोजन

   रायपुर

 मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल ने मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान के तहत सुकमा जिले में कुपोषण की दर को कम करने के लिए प्रारंभ किए गए ‘संवरता सुकमा‘ कार्यक्रम के तहत संचालित गतिविधियों का अवलोकन आज रामपुरम ग्राम पंचायत के आश्रित गांव गीदम में संचालित आंगनबाड़ी केन्द्र में किया।
    मुख्यमंत्री ने यहां गर्भवती माताओं को सुपोषण टोकरी दी और बच्चों को गर्म भोजन कराया। कलेक्टर  चंदन कुमार ने बताया कि जिले के 1 से 6 वर्ष के बच्चों के साथ ही गर्भवती और शिशुवती महिलाओं को सप्ताह में तीन दिन अण्डा दिया जा रहा हैं और एक से 3 वर्ष के बच्चों व गर्भवती-शिशुवती महिलाओं को रागी की खिचड़ी या हलवा या उपमा दी जा रही हैं। 1 से 3 वर्ष तक बच्चों को बिस्किट और 3 से 6 वर्ष तक के बच्चों को चिक्की दी जा रही हैं। इस अवसर पर राजस्व एवं जिले के प्रभारी मंत्री  जयसिंह अग्रवाल, उद्योग मंत्री  कवासी लखमा सांसद  दीपक बैज, कोण्डागांव विधायक  मोहन मरकाम, बस्तर विधायक एवं बस्तर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष  लखेश्वर बघेल, बीजापुर विधायक एवं बस्तर विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष  विक्रम मंडावी, मुख्यमंत्री के संसदीय सलाहकार  राजेश तिवारी, पूर्व केन्द्रीय मंत्री  अरविंद नेताम, कमिश्नर  अमृत कुमार खलखो, आईजी  विवेकानंद सिन्हा सहित जनप्रतिनिधिगण एवं अधिकारीगण एवं ग्रामीण उपस्थित थे।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close