छत्तीसगढ़

मास्क और सेनेटाइजर का निर्माण कर समूह की महिलाओ हो रही लाखो रुपए की आमदनी

रायपुर
कोरोना वायरस(कोविड-19)संक्रमण के रोकथाम के लिए बिहान अंतर्गत सेरीखेड़ी स्थित मल्टी-यूटीलिटी सेन्टर में मास्क और सेनिटाइजर निर्माण का कार्य महिलाओ द्वारा किया जा रहा है। इस सेंटर का आज कलेक्टर डॉ एस. भारती दासन,आई जी श्री आनंद छाबड़ा,वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आरिफ शेख़ और जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ गौरव कुमार सिंह ने निरीक्षण किया।

सीईओ डॉ गौरव सिंह ने बताया कि कोरोना जैसे महामारी के दौरान मास्क की त्वरित आवश्यकता एवं उपयोगिता को देखते हुए सेरीखेड़ी डोम के सिलाई यूनिट में मास्क का निर्माण प्रारम्भ किया गया। इस मास्क यूनिट में महिला स्व- सहायता से जुड़ी 20 महिलाये अत्याधुनिक सुविधाओं के साथ मास्क निर्माण का कार्य कर रहीं है। यहाँ पर टू-लेयर,थ्री-लेयर के मास्क का निर्माण किया जा रहा है।समूह की महिलाओं द्वारा अभी तक लगभग 30 हज़ार मास्क का निर्माण किया जा चुका है। महिलाओ द्वारा निर्मित मास्क को विभिन्न विभागों, कार्यालयों, कॉर्पोरेट ऑफिस आदि मैं विक्रय किया जा रहा है। अभी तक 25 हज़ार मास्क का विक्रय किया जा चुका है।इन मास्क के विक्रय से महिलाओ को लगभग 2 लाख रुपए का मुनाफा हो चुका है।

डॉ सिंह ने बताया कि मास्क की तरह कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए सेंटर में सेनेटाइजर का भी निर्माण महिलाओ द्वारा किया जा रहा है।उन्होंने बताया कि सेंटर में जेल और लिक्विड दो तरह के सेनेटाइजर का निर्माण किया जा रहा है।जेल बेस तथा लिक्विड बेस सेनेटाइजर को 250 रुपए प्रति लीटर के दर से विक्रय किया जा रहा है।कोरोना संक्रमण के इस दौर में महिलाओं द्वारा 2 हज़ार 500 लीटर सेनेटाइजर का निर्माण किया जा चुका है और 6 लाख रुपए मूल्य की सेनेटाइजर का विक्रय महिलाओ द्वारा किया जा चुका है।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close