राजनीति

बिना शिवसेना नहीं बन पाएगी BJP सरकार: राउत

मुंबई
महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव के परिणाम आने से एक दिन पहले शिवसेना के वरिष्ठ नेता संजय राउत ने कहा कि शिवसेना के समर्थन के बिना बीजेपी प्रदेश में सरकार बनाने में सक्षम नहीं होगी, भले ही शिवसेना को 4-5 सीट सीटों पर ही जीत मिले। एक क्षेत्रीय समाचार चैनल से बात करते हुए वरिष्ठ शिवसेना नेता ने दावा किया कि उनकी पार्टी ने जिन 124 सीटों पर चुनाव लड़ा था, उनमें से वह 100 सीटों पर जीत हासिल करने में सफल होगी।
बता दें कि बीजेपी के साथ गठबंधन की साझेदार शिवसेना ने इस बार 164 सीटों पर बीजेपी और उसके सहयोगी दल के उम्मीदवारों का समर्थन किया था। राउत ने कहा कि बीजेपी बिना शिवसेना की सहायता से अगला सरकार नहीं बना सकती है चाहे शिवसेना 4-5 सीट ही क्यों न जीते।

बीजेपी ने राज्य में 164 सीटों पर चुनाव लड़ा है जिसमें छोटे सहयागी दलों के उम्मीदवार भी शामिल हैं। इन प्रत्याशियों ने भी कमल के निशान पर चुनाव लड़ा था। महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव के मतदान के बाद आए ज्यादातर एग्जिट पोल्स में एनडीए गठबंधन को आसानी से बहुमत मिलते हुए दिखाया गया है। इस गठबंधन में शिवसेना और अन्य पार्टियां शामिल हैं। राज्य में सरकार बनाने के लिए किसी भी दल को 145 सीट की जरूरत है।

एनडीए को मिलेंगी 200 से ज्यादा सीटें: राउत
राउत ने कहा कि मेरा मानना है कि शिवसेना 100 सीटों पर जीत हासिल करेगी और बीजेपी-शिवसेना गठबंधन इस विधानसभा चुनाव में 200 से ज्यादा सीटें जीतेगी। शिवसेना ने 2014 के विधानसभा चुनाव में 62 सीटों पर जीत दर्ज की थी। उस समय शिवसेना का चुनाव पूर्व गठबंधन बीजेपी के साथ नहीं था। इस चुनाव में बीजेपी ने 122 सीटों पर जीत दर्ज की थी। दोनों ही पार्टियां बाद में सरकार में सहयोगी थी।

'शिवसेना-बीजेपी के बीच प्रेम-नफरत का रिश्ता'
राउत ने यह स्वीकार किया कि शिवसेना और भाजपा के बीच ‘प्रेम-नफरत’ का संबंध है। उन्‍होंने कहा कि शिवसेना-बीजेपी का यह गठबंधन वोटों की गिनती के बाद भी नहीं टूटेगा। हालांकि बीजेपी और शिवसेना ने 2014 में अलग-अलग चुनाव लड़ा था लेकिन अब दोनों पार्टियां साथ हैं। यह एक तरफ से प्रेम-नफरत का संबंध है।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close