उत्तर प्रदेश

बलियाः प्रतिमा विसर्जन के दौरान तीन युवकों की डूबकर मौत, दो अन्य तैरकर बचे

सिकन्दरपुर (बलिया)
बलिया में लक्ष्मी प्रतिमा विसर्जन के दौरान बुधवार की दोपहर घाघरा नदी में डूबकर तीन युवकों की मौत हो गयी। काफी खोजबीन के बाद उनका शव पानी से बरामद हो सका। हादसे के बाद गांव में कोहराम मच गया। पुलिस ने लाश को कब्जा में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया। सिकंदरपुर थाना क्षेत्र के वंशी बाजार गांव में दीपावली पर्व पर लक्ष्मी पूजा का आयोजन किया गया था। बुधवार दोपहर बाद करीब चार बजे कुछ युवक प्रतिमा को ट्रैक्टर-ट्राली से लेकर गांव से करीब ढाई किमी उत्तर घाघरा नदी के कठौड़ा घाट पर विसर्जित करने पहुंचे। ट्राली के ऊपर से मूर्ति को उतारने के बाद कुछ युवक पानी में घुस गये। बताया जाता है कि प्रतिमा नदी किनारे से जैसे ही गहराई की ओर पहुंची, पानी के अंदर बैठने लगी तथा उसको पकड़े पांच युवक भी डूबने लगे। प्रत्यक्षदर्शियों की मानें तो मूर्ति के साथ वंशी बाजार निवासी 18 वर्षीय रोशन गुप्त, 20 वर्षीय मोनू प्रजापति व 20 साल का बेचन भी डूब गये। लोगों का कहना है कि इस दौरान वंशी बाजार का रहने वाला 20 वर्षीय बिल्लू व हुसैनपुर निवासी 18 वर्षीय संविधान तिवारी ने तैरकर अपनी जान बचा ली। हादसे के बाद मौजूद लोगों में अफरा-तफरी मच गयी। खबर मिलने के बाद वंशी बाजार के साथ ही आसपास के गांवों की भीड़ नदी किनारे जुट गयी। पानी में उतरे कुछ लोगों ने एक के बाद एक तीनों का शव पानी से निकाला। जानकारी मिलने के बाद परिवार के लोग रोते-बिलखते पहुंच गये।

Related Articles

Back to top button
Close