छत्तीसगढ़

पीड़ित महिलाओं को त्वरित पुलिस एवं कानूनी सहायता उपलब्ध कराने के निर्देश

महासमुंद
राष्ट्रीय महिला आयोग की सदस्य श्रीमती कमलेश गौतम महासमुंद जिले के प्रवास पर रहीं। इस दौरान महिलाओं से संबंधित केंद्र सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा संचालित योजनाओं के संबंध में क्षेत्र भ्रमण कर जानकारी ली। उन्होंने कलेक्टर श्री सुनील कुमार जैन एवं पुलिस अधीक्षक श्री जितेन्द्र कुमार शुक्ल के साथ संयुक्त बैठक कर योजनाओं के क्रियान्वयन के संबंध में विस्तृत चर्चा की। बैठक में उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि महिलाओं से संबंधित केंद्र सरकार एवं राज्य सरकार की समस्त योजनाओं का जमीनी स्तर पर उचित क्रियान्वयन हो एवं महिलाओं को इसका लाभ मिले। साथ ही महिलाओं के साथ घटित होने वाले अपराधों, उनकी रोकथाम एवं विभिन्न प्रकार की हिंसा से पीड़ित महिलाओं को त्वरित पुलिस एवं कानूनी सहायता उपलब्ध कराने के विषय में चर्चा की गई।

वृद्धाश्रम एवं आंगनबाड़ी केन्द्र का किया अवलोकन-
प्रवास के दौरान श्रीमती गौतम ने ग्राम बेलसोंडा के आंगनबाड़ी केंद्र में प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के हितग्राहियों से सीधी चर्चा की एवं उनसे फीडबैक भी लिया। तदुपरांत श्रीमती गौतम सखी वन स्टॉप सेंटर महासमुंद का निरीक्षण भ्रमण किया एवं वहां पर कार्यरत केंद्र प्रशासक एवं अन्य कर्मचारियों से सखी केंद्र के संचालन के संबंध में जानकारी ली गई। इसके अलावा उनके द्वारा समाज कल्याण विभाग द्वारा संचालित वृद्धा आश्रम का भी निरीक्षण किया गया और वृद्धाश्रम की व्यवस्थाओं का अवलोकन किया गया। उनके द्वारा विशेष तौर पर खाद्यान्न सुरक्षा योजना, उज्जवला गैस कनेक्शन, सखी वन स्टॉप सेंटर एवं प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना महिलाओं के कौशल विकास से संबंधित योजना महिलाओं को जागरूक करने संबंधी प्रयासों की जानकारी ली गई। इस अवसर पर महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी उपस्थित थे।

 

Related Articles

Back to top button
Close