स्वास्थ्य

नैचरल ऑइल जिनका नहीं है कोई साइड इफेक्ट

बालों का गिरना एक सामान्य प्रक्रिया है और हर दिन हमारे सिर से करीब 30-40 बाल टूटते हैं। लेकिन जब बालों के टूटने और गिरने की रफ्तार 100 बाल प्रतिदिन से ज्यादा हो जाए तो इसका मतलब है कि आप गंजेपन की तरफ तेजी से बढ़ रहे हैं। खानपान की गलत आदतें, हद से ज्यादा स्ट्रेस और नींद की कमी की वजह से पुरुषों में हेयरफॉल और गंजेपन की समस्या तेजी से बढ़ रही है। तो आखिर इस समस्या का हल क्या है? जवाब है आयुर्वेदिक तेल… जी हां, आयुर्वेद में ऐसे कई तेल मौजूद हैं जिन्हें नियमित रूप से लगाकर आप बिना किसी साइड इफेक्ट के गंजेपन की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं…

​कैस्टर ऑइल या अरंडी का तेल
अरंडी के तेल की मसाज से बालों की जड़ों में उत्तेजना आती है। इससे पूरे सिर में रक्त संचार भी तेज हो जाता है। अरंडी के तेल में हेल्दी फैट्स पाए जाते हैं जो स्कैल्प को पोषण देते हैं और डैंड्रफ को रोकने के साथ ही बालों को तेजी से बढ़ने में मदद करते हैं।

​पिपरमिंट ऑइल
पिपरमिंट ऑइल को ऐंटीऐलर्जिक इसेंशियल ऑइल माना जाता है। इसमें ऐंटीबैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं और इस तेल को सिर में लगाने से कुछ ही हफ्ते में घने और लंबे बाल पाए जा सकते हैं।

​जैतून का तेल या ऑलिव ऑइल
जैतून का तेल लगाने से सिर की त्वचा में बनने वाला हेयर लॉस हॉर्मोन का उत्पादन रुक जाता है। इससे बाल गिरना कम हो जाता है और बालों की ग्रोथ बढ़ने लगती है। जैतून का तेल या ऑलिव ऑइल सिर की स्किन को पोषण देता है और उसे इंफेक्शन से बचाता है।

​जोजोबा ऑइल
जोजोबा ऑइल में भरपूर मात्रा में विटमिन ई पाया जाता है जो ऑक्सिडेटिव स्ट्रेस को दूर करता है जिससे गंजेपन और हेयर लॉस में राहत मिलती है। यह तेल स्किन के द्वारा उत्पादन किए जाने वाले नैचरल तेल या सीबम जैसा ही होता है और आसानी से स्किन के अंदर अब्जॉर्ब हो जाता है।

​टी ट्री ऑइल
स्कैल्प में किसी तरह का इंफेक्शन या ज्यादा डैंड्रफ होने पर भी बाल तेजी से गिरने लगते हैं और गंजेपन की समस्या हो सकती है। ऐसे में टी ट्री ऑइल आपके काफी काम आ सकता है। इसमें ऐंटी माइक्रोबियल और ऐंटीऑक्सिडेंट गुण होते हैं जो बालों की जड़ों को मजबूती देता है और हेयर ग्रोथ में मदद करता है।

​नारियल तेल
हम सबका फेवरिट और सबसे कॉमन हेयर ऑइल के रूप में यूज होने वाला नारियल तेल भी गंजेपन की समस्या दूर करने में मदद कर सकता है। नारियल के तेल में ऐंटीऑक्सिडेंट्स के अलावा जरूरी पोषक फैट्स भी पाया जाता है जो स्कैल्प को नमी देने और हेल्दी बनाने के साथ-साथ बालों को किसी भी तरह के नुकसान से बचाता है।

Related Articles

Back to top button
Close