देश

दो श्रमिक स्पेशल ट्रेन रद्द होने पर प्रवासी मजदूरों ने राजकोट में की तोड़फोड़

 नई दिल्ली 
कोरोना लॉकडाउन के चलते देशभर में फंसे हुए प्रवासी मजदूरों को निकलाने का प्रयास भले ही तेजी के साथ चल रहा हो, लेकिन कई जगहों से अब भी वे अपने घरों के लिए नहीं निकल पा रहे हैं। यही वजह है कि कई राज्यों में उनका गु्स्सा देखने को मिल रहा है, वे तोड़फोड़ कर रहे हैं और सड़कों को ब्लॉक कर रहे हैं और ताकि वहां की राज्य सरकार उनकी बातें सुने।

मथुरा-आगरा हाईवे को किया जाम
इधर, उत्तर प्रदेश के मथुरा में प्रवासी मजदूरों ने रायपुर जाट इलाके में मथुरा-आगरा हाईवे को ब्लॉक कर दिया और इस बात की मांग की कि राज्य सरकार यूपी के अलग-अलग जिलों में उन्हें उनके घर तक छोड़ने की व्यवस्था करे।

सूरत में प्रवासी कामगारों ने की तोड़फोड़
उत्तर प्रदेश और बिहार जाने वाली ‘श्रमिक स्पेशल ट्रेनें’ रविवार को रद्द होने के बाद प्रवासी मजदूरों ने गुजरात के राजकोट के शापर इंडस्ट्रियल इलाके में खूब उत्पात मचाया और गाड़ियों में तोड़फोड़ की। राजकोट पुलिस ने इस घटना में शामिल लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की बात कही। राजकोट के एसपी (ग्रामीण) बलराम मीणा ने कहा, "जो लोग भी इस घटना में संलिप्त हैं उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।"

समाचार एजेंसी एएनआई ने एक वीडियो उत्तर प्रदेश-मध्य प्रदेश सीमा के पास चकघाट के रेवा इलाके का ट्वीट किया है। इस वीडियो में यह साफतौर पर देखा जा सकता है कि किस तरह भारी संख्या में प्रवासी मजदूर पुलिस बैरिकेडिंग को हटाते हुए उत्तर प्रदेश में प्रवेश कर रहे हैं।
 
गौरतलब है कि सरकार ने कोरोना लॉकडाउन के चलते फंसे हुए प्रवासी मजदूरों को निकालने के लिए स्पेशल ट्रेनें चलाई हैं। लेकिन, कई राज्यों में अभी भी काफी तादाद में प्रवासी मजदूर फंसे हुए हैं तो कुछ पैदल या साइकिल पर अपने पैतृक स्थान की ओर जा रहे हैं। ऐसे में कई बार ये मजदूर सड़क हादसों का भी शिकार हो रहे हैं।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close