खेल - कूद

दर्शकों के डर से अंपायर इयान गूल्ड ने नहीं दिया था सचिन को 190 पर आउट: डेल स्टेन

नई दिल्ली 
साउथ अफ्रीका के तेज गेंदबाज डेल स्टेन ने कहा है कि अंपायर इयान गूल्ड ने सचिन तेंडुलकर को उस समय आउट नहीं दिया था जब वह ग्वालियर वनडे में 190 पर बल्लेबाजी कर रहे थे। स्टेन ने कहा कि भारतीय दर्शकों की नाराजगी से बचने के लिए गूल्ड ने ऐसा किया। सचिन ने इस मैच में ऐतिहासिक दोहरा शतक लगाया था। वह एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में दोहरा शतक लगाने वाले पहले पुरुष खिलाड़ी बने थे। स्टेन ने कहा कि जब सचिन डबल सेंचुरी के आंकड़े से 10 रन दूर थे जब उन्होंने उन्हें विकेटों के सामने पकड़ लिया था। यानी स्टेन की नजर में वह LBW हो गए थे लेकिन गूल्ड ने उन्हें नॉट आउट करार दिया था। 

स्टेन ने स्काई स्पोर्ट्स के पोडकास्ट में इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन के साथ पोडकास्ट में कहा, 'तेंडुलकर ने वनडे इंटरनैशनल की पहली डबल सेंचुरी लगाई। और यह ग्वालियर में हमारे खिलाफ थी। और मुझे दरअसल याद है- मुझे लगता है कि मैंने उन्हें 190 के करीब आउट कर दिया था। इयान गूल्ड अंपायर थे, और उन्होंने उसे नॉट आउट करार दिया था।' स्टेन ने कहा कि मैंने हैरानी से अंपायर की ओर देखा। मैंने पूछा, 'क्यों, आखिर क्यों आपने उन्हें नॉट आउट दिया? यह तो बिलकुल साफ आउट था।' और उन्होंने कहा, 'दोस्त, आसपास देखो- अगर मैं उन्हें आउट देता, मैं होटल वापस नहीं पहुंच पाता।' तेंडुलकर ने आखिर वनडे इंटरनैशनल की पहली डबल सेंचुरी लगाई। उन्होंने नाबाद 200 रनों की पारी खेली। भारत ने तीन मैचों की सीरीज के दूसरे मैच में 403 रनों का विशाल स्कोर बनाया था। भारत ने वह मैच 153 रनों से जीता था। साउथ अफ्रीका की टीम 42.5 ओवर में 248 रन बनाकर ऑल आउट हो गई थी। 

Related Articles

Back to top button
Close