छत्तीसगढ़

डब्ल्यूएचओ टीम पहुंची,एचआईवी टीबी नियंत्रण कार्यक्रमों का जायजा

रायपुर
विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) व केंद्र की 30 सदस्यीय टीम बीती शाम-रात रायपुर पहुंची। यह टीम आज सुबह से यहां कालीबाड़ी टीबी अस्पताल, अंबेडकर अस्पताल पहुंचकर प्रदेश में संचालित एचआईवी व टीबी नियंत्रण कार्यक्रमों का जायजा लेती रही। स्वास्थ्य विभाग के अफसर उन्हें प्रदेश में दोनों रोगों की स्थिति की जानकारी देते रहे। टीम ने वहां आने वाले कुछ रोगियों से भी चर्चा कर सरकारी इलाज सुविधा की जानकारी ली।

बताया गया कि डब्ल्यूएचओ और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की 15-15 सदस्यीय टीम  चार दिनी छत्तीसगढ़ दौरे पर आई है और यह रायपुर, बिलासपुर जिले में एचआईवी, टीबी नियंत्रण के लिए संचालित अलग-अलग  जांच-इलाज केंद्रों तक पहुंचकर वहां दवा, स्टाफ आदि की जानकारी लेगी। सभी जगहों पर रोगियों और उनके परिजनों से चर्चा करेगी। इसके अलावा नए मरीजों की खोज करेगी।

राज्य एड्स नियंत्रण कार्यक्रम के परियोजना संचालक डॉ. एसके बिंझवार ने बताया कि ज्वाइंट मॉनिटरिंग मिशन टीम में केंद्र व डब्ल्यूएचओ के राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय संगठन के अफसर शामिल हैं। उन्होंने बताया कि रायपुर, बिलासपुर में जायजा लेने के लिए दो अलग-अलग टीम बनाई गई है। पहली टीम रायपुर के कालीबाड़ी अस्पताल, अंबेडकर  अस्पताल, पंडरी जिला अस्पताल समेत अलग-अलग केंद्रों तक पहुंच रही है। टीम वहां स्वास्थ्य अफसरों से मिलकर वहां की स्थिति के बारे में पूछ रही है।

उन्होंने बताया कि दूसरी टीम बिलासपुर के लिए रवाना हो गई है। दोनों जगहों पर यह टीम 14 नवंबर तक रहकर वहां एड्स व टीबी कार्यक्रमों को लेकर फिल्ड स्तर पर मिलने वाली खामियों व उपलब्धियों की पूरी रिपोर्ट तैयार करेगी। आखिर में यह रिपोर्ट कलेक्टरों को सौंपी जाएगी। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय और डब्लूएचओ को भी प्रदेश में एचआईव्ही, टीबी के नियंत्रण के लिए इलाज व बचाव में संचालित योजनाओं के क्रियान्वयन की रिपोर्ट देगी।

Related Articles

Back to top button
Close