स्वास्थ्य

ठंड के मौसम में फायदेमंद है शहद

सर्दियों का मौसम अपने साथ lazy और cozy माहौल के साथ-साथ लेकर आता है कई तरह की बीमारियां और स्किन से जुड़ी दिक्कतें भी। ऐसे में हम आपको बता रहे हैं एक ऐसे बेहद खास इन्ग्रीडिएंट के बारे में जो ठंड के मौसम में आपकी सेहत से लेकर सुंदरता तक को बरकरार रखने में रामबाण का काम करता है और वह है- शहद। जी हां, कॉमन कोल्ड से लेकर गला खराब होने की दिक्कत जैसी आम समस्याओं को दूर करने में शहद बेहद फायदेमंद है। लेकिन असली और नकली शहद के बीच पहचान कैसे करें, ये जानना भी जरूरी है…

​जब आपका गला हो खराब
सर्दियां आते ही आप कुछ ठंडा खाएं या न खाएं, गले में इंफेक्शन और सोर थ्रोट यानी गला खराब होने की दिक्कत जरूर हो जाती है। ऐसे में शहद आपकी मदद कर सकता है। चाय में चीनी की जगह शहद डालकर पीना या फिर हल्के गर्म पानी में नींबू और शहद डालकर पीने से आपके गले को राहत मिल सकती है।

​सर्दी, जुकाम, खांसी से हों परेशान
सर्दी, जुकाम हो, नाक बह रही हो या फिर खांसी की दिक्कत हो तो इस समस्या में भी शहद आपकी मदद कर सकता है। अदरक के रस में शहद मिलाकर खाने से खांसी की दिक्कत दूर हो जाती है। आप चाहें तो शहद में एक उंगली डुबोएं और उसे चाट लें। दिनभर में 2-3 बार ऐसा करने से भी खांसी की दिक्कत दूर हो जाएगी। आप चाहें तो दालचीनी के पाउडर में भी शहद मिलाकर खा सकते हैं।

​सर्दी में जब एनर्जी महसूस हो कम
ठंड के मौसम में हर वक्त आलस आता रहता है। ऐसा महसूस होता है मानो शरीर में एनर्जी की कमी हो गई हो। ऐसे में अपनी प्रॉडक्टिविटी को बढ़ाने में शहद आपकी मदद कर सकता है। गुनगुने या गर्म पानी में 1 चम्मच शहद डालकर हर दिन सुबह पीने से आपको एनर्जी की कमी महसूस नहीं होगी।

​शहद असली है या नकली यूं करें चेक
विनिगर और पानी के सॉलूशन में शहद की कुछ बूंदें डालें। अगर इस मिश्रण में फोम यानी झाग बनने लगता है तो इसका मतलब है कि आपके शहद में मिलावट की हुई है और शहद शुद्ध नहीं है।

​हीट टेस्ट से परखें शुद्धता
जब शहद को गर्म चीज के संपर्क में लाया जाता है तो शहद जलता नहीं है। इस टेस्ट को करने के लिए शहद में कॉटन बड या माचिस की तीली को डुबोएं और फिर उसे जलाने की कोशिश करें। अगर वो जल जाता है तो इसका मतलब है कि शहद शुद्ध है। अगर शहद मिलावटी है तो वह सही तरीके से जलेगा नहीं।

​पानी का टेस्ट बताएगा शहद की शुद्धता
अगर आपका शुद्ध शुद्ध है तो वह पानी में पूरी तरह से घुलेगा नहीं और एक बार घोलने के बाद आपको काफी मेहनत करनी पड़ेगी ताकि शहद पानी में घुल जाए लेकिन अगर शहद मिलावटी है और उसमें चीनी का ग्लूकोज की मिलावट की गई है तो वह आसानी से पानी में घुल जाएगा और फिर सफेद मार्क छोड़ देगा।

Related Articles

Back to top button
Close