छत्तीसगढ़

टाटीबंध चौक पर की गई व्यवस्थाओं का कलेक्टर ने लिया जायजा

रायपुर
कलेक्टर रायपुर डॉ भारती दासन ने आज रायपुर शहर के टाटीबंध चौक पहुंचकर यहां से विभिन्न राज्यों और प्रदेश के विभिन्नि जिलों में जाने वाले मजदूरों के लिए की गई बसों, स्वल्पाहार, भोजन पेयजल तथा अन्य व्यवस्थाओं की जानकारी ली। उन्होंने मजदूरों से बात की और ऐसे मजदूर जिनके पांव में चप्पल नहीं था, उन्हें निशुल्क चरण पादुका का वितरण कराया। इस अवसर पर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ गौरव सिंह भी उपस्थित थे।

उल्लेखनीय है कि रायपुर के टाटीबंध चौक से विभिन्न राज्यों विशेषकर उड़ीसा, झारखंड, बिहार ,पश्चिम बंगाल सहित विभिन्न राज्य जाने  वाले श्रमिकों और मजदूरों के लिए यहां लगभग 30 वाहनों की व्यवस्था की गई है। झारखंड से भी  वहां के मजदूरों को लेने 5 बसे आयी हैं। इसी तरह प्रदेश के अन्य जिलों के मजदूरों के लिए भी टाटीबंध में वाहनों की व्यवस्था की गई है। चौक में मजदूरों के भोजन, पानी, स्वल्पाहार के साथ दूध, फल तथा अन्य सामग्री शहर की विभिन्न स्वयंसेवी संस्थाओं के माध्यम से वितरित की  जा रही है। कलेक्टर ने इस वितरण व्यवस्था का भी अवलोकन किया और इसके लिए शहर के स्वयंसेवी संस्थाओं की भूरी भूरी प्रशंसा की।

उन्होंने इस अवसर पर चौक में उड़ीसा राज्य के पालमपुर क्षेत्र के श्रमिकों भी उनकी समस्याओं को सुनकर उड़ीसा राज्य की सीमा तक के लिए बस की व्यवस्था तत्काल कार्रवाई। उन्होंने कहा कि सीमा के उपरांत उड़ीसा के बसों से अपने घरों तक पहुंच सकेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि उन्हें पानी तथा अन्य सुविधाओं की कमी नहीं होने दी जाएगी। इन मजदूरों ने  छत्तीसगढ़ राज्य शासन और कलेक्टर के त्वरित कार्यवाही की प्रशंसा की। ये मजदूर मुम्बई से रायपुर पहुंचे थे।

कलेक्टर ने चौक में आने वाले मजदूरों की बड़ी संख्या को देखते हुए यहां बिहार, उड़ीसा ,झारखंड आदि अन्य प्रदेशों के मजदूरों के लिए अलग-अलग टेंट लगाकर रुकने की व्यवस्था करने को भी कहा। चौक में इन मजदूरों के स्वास्थ्य के लिए यहां  ओ आर एस पैकेट, उल्टी ,दस्त, बुखार तथा अन्य चिकित्सा की दवाइयां भी निशुल्क वितरित की जा रही हैं। इसी तरह उनके शौचालय आदि की भी यहां व्यवस्था की गई है।

Related Articles

Back to top button
Close