बिहार

जल जीवन हरियाली यात्रा के चौथे चरण का आगाज, आज वैशाली और छपरा में रहेंगे CM नीतीश

पटना
जल जीवन हरियाली यात्रा ( Jal Jeevan Hariyali  Yatra) के चौथे चरण के तहत मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) की यात्रा आज फिर शुरू हो रही है. तीन दिवसीय यात्रा के तहत सबसे पहले वे हाजीपुर जाएंगे इसके बाद छपरा (Chhapra) जाएंगे. इसके बाद शिवहर, सीतामढ़ी और मुजफ्फरपुर (Sheohar, sitamarhi and Muzaffarpur) जिलों में भी जाएंगे. जल जीवन हरियाली से संबंधित सारण जिले की समीक्षा बैठक छपरा में और मुजफ्फरपुर में शिवहर, सीतामढ़ी एवं मुजफ्फरपुर जिले के जल जीवन हरियाली से संबंधित प्रमंडलीय समीक्षा करेंगे.

इस यात्रा के क्रम में वे सबसे पहले वैशाली जिले के देसरी प्रखंड के सेंटर ऑफ एक्सीलेंस फॉर फ्रुट व जल संचयन योजना का अवलोकन करेंगे. इसके बाद रविवार को ही वह छपरा के एकमा जाएंगे. जहां वे छपिया गांव में आयोजित कई कार्यक्रमों में शामिल होंगे.

मुख्यमंत्री जल जीवन हरियाली के तहत विभिन्न परसा पूर्वी पंचायत के छपिया चौर में किसानों द्वारा किये गए तालाब निर्माण एवं मत्स्य पालन के अलावा जल संचयन व कृषि एवं अन्य विभागों द्वारा कराये गये कार्यों की प्रदर्शनी को देखेंगे.

सोमवार को मुख्यमंत्री शिवहर जिले के शिवहर प्रखंड की चमनपुर पंचायत के गढ़वा गांव में तालाब सौंदर्यीकरण, वृक्षारोपण व वर्षा जल संचयन को देखेंगे. वह शिवहर के समाहरणालय मैदान में दोपहर 12.5 बजे जल जीवन हरियाली जागरूकता सम्मेलन को संबोधित करेंगे.

सोमवार को ही सीतामढ़ी जिले के बाजपट्टी प्रखंड की बाजपट्टी पंचायत के आबिदपुर गांव में तालाब का सौंदर्यीकरण, पंचायत सरकार भवन में वर्षा जल संचयन व सौर्य ऊर्जा संयंत्र को देखेंगे. उसके बाद वह उसी प्रखंड के बोधायन मंदिर का दर्शन व निर्माणाधीन पर्यटकीय संरचनाओं को देखेंगे.

चौथे चरण की यात्रा के अंतिम दिन मुख्यमंत्री मुजफ्फरपुर जिले के कांटी प्रखंड के पानापुर हवेली गांव में जीविका की ग्राम वाणी प्रणाली की शुरुआत करेंगे. उसके बाद वह सरैया प्रखंड के बखरा गांव में जल जीवन हरियाली के तहत तालाब के  जीर्णोद्धार को देखेंगे.

साथ ही मछली पालन व बत्तख पालन को देखेंगे. मुख्यमंत्री दोपहर डेढ़ बजे मुजफ्फरपुर समाहरणालय में प्रमंडल स्तरीय समीक्षा करेंगे.

Related Articles

Back to top button
Close