मध्य प्रदेश

जबलपुर कर्फ्यू में ढील नहीं, प्रभावित 4 थाना क्षेत्रों में डीआईजी समेत भारी पुलिस बल

जबलपुर
नागरिकता संशोधन कानून व एनआरसी के विरोध में सुलगी आग से जबलपुर के संवेदनशील इलाकों में  कर्फ्यू के बाद आज तनावमिश्रित शांति रही। इससे पहले कल जुमा की नमाज के बाद उपद्रवियों ने नाबालिग बच्चों को आगे कर पुलिस बल पर पथराव कर तोड़फोड़ से शहर की फिजा बिगाड़ी। पुलिस ने वीडियो फुटेज से चिन्हित कर करीब 3 दर्जन लोगों को गिरफ्तार कर लिया। घटना में सीएसपी व टीआई समेत 28 पुलिसकर्मियों के घायल होने की खबर है। मुख्यमंत्री कमलनाथ के निर्देश पर विशेष विमान से आनन-फानन पहुंचे केबिनेट मंत्री तरुण भनोत व सामाजिक न्याय मंत्री लखन घनघोरिया ने रात में ही आलाअधिकारियों से बैठक कर हालातों की समीक्षा की।

शुक्रवार को नमाज के बाद बहोराबाग-मंडी मदार टेकरी में जमा हुई भीड़ के द्वारा पत्थरबाजी के बाद अचानक बिगड़े हालत को काबू करने में पुलिस को करीब 6 घंटे लग गए, उपद्रवियों को खदेड़ते हुए पुलिस ने कई राउंड टियर गैस के गोले छोड़े। अंधेरा होते ही पुलिस ने स्थिति पुलिस के नियंत्रण में रही। एहतियातन क्षेत्र में भारी पुलिस बल रात भर तैनात है, वहीं डीआईजी भगवत सिंह चौहान व एसपी अमित सिंह ने कर्फ्यूग्रस्त गोहलपुर, हनुमानताल, अधारताल व कोतवाली थाना क्षेत्र में आज सुबह से ही पुलिस चौकसी का जायजा लिया। कलेक्टर भरत सिंह यादव ने कहा कि जिले में शांति बनाए रखने के पर्याप्त इंतजाम किए गए हैं और फिलहाल कर्फ्यू में ढील नहीं दी जा रही है।

 

Tags

Related Articles

Back to top button
Close