छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ में अवैध धान ट्रांसपोर्टिंग के 190 प्रकरण दर्ज, 19 हजार 33 क्विंटल धान जब्त

रायपुर
छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के विभिन्न जिलों में धान (Paddy) का अवैध परिवहन (Transporting) करते हुए पाए जाने पर 63 वाहनों सहित 19 हजार 33 क्विंटल धान जब्त किया गया है. अवैध धान परिवहन (Illegal Paddy Transportation) के 190 प्रकरण भी बनाए गए हैं. इनमें से एक प्रकरण पर एफआईआर (FIR) भी दर्ज की गई है. बाकि प्रकरणों पर मंडी अधिनियम के तहत कार्रवाई की जा रही है. सीएम भूपेश बघेल ने पड़ोसी राज्यों से धान के अवैध परिवहन को रोकने के लिए पुख्ता इंतजाम करने के निर्देश दिए हैं. इसके तहत ही कार्रवाई की जा रही है.

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के मुख्य सचिव आरपी मण्डल (RP Mandal) ने रायपुर (Raipur) न्यू सर्किट हाउस में प्रदेश के सभी संभागों के आयुक्त और कलेक्टरों की हाल ही में बैठक ली. इस बैठक में प्रदेश के सीमावर्ती जिलों से आने वाले अवैध धान को रोकने के लिए चेकपोस्ट बनाकर शख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं. अवैध धान परिवहन रोकने के लिए सीमावर्ती जिलों में चाकचैबंद व्यवस्था करने का दावा किया गया है.

प्रदेश के कवर्धा जिले में सर्वाधिक 2 हजार 824 क्विंटल धान सहित 9 वाहन जब्त किए गए हैं और अवैध धान परिवहन के 14 प्रकरण बनाए गए. इसी प्रकार बीजापुर जिले में 178 क्विंटल धान, कांकेर में 479 क्विंटल धान, नारायणपुर में एक हजार 678 क्विंटल धान, सुकमा में 952 क्विंटल धान, बिलासपुर में 215 क्विंटल धान, जांजगीर-चांपा में एक हजार 58 क्विंटल धान, रायगढ़ एक हजार 870 क्विंटल धान जब्त किए गए हैं. इसके अलावा बालोद में 1 हजार 282 क्विंटल धान, बेमेतरा में 171 क्विंटल धान, राजनांदगांव जिले में एक हजार 139 क्विंटल धान, धमतरी में 157 क्विंटल धान, गरियाबंद में 112 क्विंटल धान, महासमुन्द में 483 क्विंटल धान, बलरामपुर में 1 हजार 308 क्विंटल धान, जशपुर में 1 हजार 740 क्विंटल धान, कोरिया में 924 क्विंटल धान, सरगुजा में एक हजार 719 क्विंटल धान और सूरजपुर में 743 क्विंटल धान जब्त की गई है.

Related Articles

Back to top button
Close