देश

गूगल की मूल कंपनी अल्फाबेट के सीईओ बने सुंदर पिचाई

 नई दिल्ली 
गूगल ने मंगलवार को भारतीय मूल के सुंदर पिचाई को अपनी मूल कंपनी अल्फाबेट का मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) नियुक्त किया है। पिचाई ने इंटरनेट की दिग्गज कंपनी के सह-संस्थापक लैरी पेज की जगह लेंगे। सह-संस्थापकों, शेयर धारकों और अल्फाबेट के निदेशक मंडल के सदस्यों के रूप में लैरी पेज और सर्गी ब्रिन की भागीदारी रहेगी।

कर्मचारियों के नाम एक खत में पेज और ब्रिन ने कहा कि जब भी हमें लगता है कि कंपनी को चलाने का एक बेहतर तरीका है, तो हमने प्रबंधन को कभी नहीं रोका। बता दें कि अल्फाबेट का गठन 2015 में किया गया था, जो मूल कंपनी Google और अन्य परियोजनाओं जैसे कि स्वायत्त कार इकाई Waymo और स्मार्ट शहरों के समूह सिडवॉक लैब्स को एक अलग पहचान देता है।

भारत में जन्मे 47 वर्षीय पिचाई ऐसे समय में ये जिम्मेदारी उठा रहे हैं, जब पेज और ब्रिन बिल्कुल ही अनुपस्थित हैं और कंपनी को टेक जगत में अपनी स्थिति से संबंधित विवादों का सामना करना पड़ रहा है। पिचाई कंपनी में ये जगह ले रहे हैं जब कंपनी संयुक्त राज्य अमेरिका और अन्य जगहों पर गोपनीयता और डेटा प्रथाओं पर अविश्वास जांच और विवादों का सामना कर रही है। बता दें कि कंपनी ने कार्यस्थल में यौन उत्पीड़न को पर्याप्त रूप से संबोधित करने में असफल रहने और कंपनी के शुरुआती आचार संहिता में संस्थापकों द्वारा जासूसी करने के आरोपों का भी सामना किया है।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close