देश

कोविड-19 से जंग: भारत में कोरोना के मामले एक लाख के पार, पर हालात अभी काबू में

 
नई दिल्‍ली

भारत में कोरोना के मामले एक लाख के पार पहुंच चुके हैं। अब तक देश में इस महामारी से मरने वालों की संख्‍या भी तीन हजार से अधिक हो चुकी है। लेकिन राहत की बात यह है कि दूसरे देशों की तुलना में भारत में कोरोना से मरने वालों की संख्‍या काफी कम है, साथ ही इससे ठीक होने की दर भी ज्‍यादा है। लेकिन लॉकडाउन 4.0 में चुनौती यही है कि इस रुझान को और बेहतर बनाा जाए।
दुनिया में कोरोना के कुल मामले 50 लाख के करीब पहुंच चुके हैं। इनमें से 317792 लोगों की मौत हो चुकी है। दुनिया में कोरोना से सर्वाधिक प्रभावित देशों की सूची में अमेरिका पहले नंबर पर है। वहां कुल 15 लाख से अधिक लोग इसकी चपेट में आए हैं जिनमें से 91 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं भारत में 100,161 लोग कोरोना से संक्रमित हुए हैं और 3,144 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। दुनिया में कोरोना से सर्वाधिक प्रभावित देशों की सूची में भारत 11वें स्थान पर है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मानकों के मुताबिक राज्य सरकारें अपने यहां रेड, ग्रीन और ऑरेंज जोन तय करेंगी। रेड जोन और ऑरेंज जोन के भीतर जिले के अधिकारी कंटेनमेंट जोन और बफर जोन तय करेंगे। कंटेनमेंट जोन में केवल जरूरी गतिविधियों की ही अनुमति होगी। इन इलाकों में लॉकडाउन का सख्ती से पालन किया जाएगा और किसी भी व्यक्ति को वहां से किसी को आनेजाने की अनुमति नहीं होगी।

कंटेनमेंट जोन छोड़कर बाकी जगहों पर मिली राहत
कोरोना वायरस लॉकडाउन से प्रभावित लोगों को बड़ी राहत प्रदान करते हुए गुजरात सरकार ने मंगलवार से गैर निरुद्ध क्षेत्रों में बाजारों और दुकानों को खोलने समेत कई रियायतों की सोमवार को घोषणा की। मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कहा कि निरुद्ध क्षेत्रों में कोई ढील नहीं दी जाएगी लेकिन गैर निरुद्ध क्षेत्रों में सुबह आठ बजे से अपराह्न चार बजे तक दुकान और कार्यालय खुल सकते हैं। हालांकि, ऐसे व्यावसायिक और वाणिज्यिक प्रतिष्ठानों को सम-विषम फार्मूले का पालन करना होगा जहां एक दिन में बस 50 फीसदी प्रतिष्ठान ही खुले रह सकते हैं। इसके अलावा, सरकार ने गैर निरुद्ध क्षेत्रों में पान मसाला की दुकानों एवं नाई एवं हजामत की दुकानों एवं सैलूनों को भी खोलने की इजाजत दी है। रूपाणी ने कहा कि रेस्तरां एवं ढाबे बस भोजन ले जाने के लिए खुले रह सकते हैं। उन्होंने कुछ स्थानों को छोड़कर राज्यभर में बस एवं ऑटोरिक्शा सेवाओं की बहाली की घोषणा की।

पंजाब में पब्लिक ट्रांसपोर्ट को शर्तों के साथ चलने की इजाजत
कैब, ऑटो-रिक्शा और पब्लिक ट्रांसपोर्ट को शर्तों के साथ चलने की इजाजतज्वैलरी की दुकानें और सलून खोलने की इजाजतकुछ शर्तों के साथ ग्रामीण और शहरी इलाकों में दुकानें भी खोली जाएंगीं50 प्रतिशत यात्रियों के साथ सार्वजनिक बस सेवाएं फिर से शुरू होंगी

हरियाणा में पाबंदी के साथ मिली कुछ छूटें
प्रदेश के अंदर और अन्य प्रदेशों के लिए बस सेवा भी मंगलवार से शुरू कर दी जाएगीअब कंटेनमेंट जोन तक प्रतिबंध जारी रहेंगे, बाकी क्षेत्रों को ऑरेंज जोन मानकर गतिविधियां शुरू होंगीजेल से परोल पर छोड़े गए 6 हजार कैदियों को 6 हफ्ते का और वक्त दे दिया गया है, अब कुल 12 हफ्ते बाद जेल वापस आएंगे

सीएम केजरीवाल ने दिल्ली हटाई ज्यादातर पाबंदियां
सीएम केजरीवाल ने ऐलान किया कि स्पोर्ट्स कैंपस खोले जाएंगे लेकिन वहां दर्शक नहीं होंगे। दिल्ली में शर्तों के साथ पब्लिक ट्रांसपोर्ट को मंजूरी दी है। सीएम केजरीवाल ने ऐलान किया कि बार्बर शॉप्स, स्पा और सैलून अभी बंद रहेंगे। शाम 7 बजे से सुबह 7 बजे के बीच घरों से बाहर निकलना पूरी तरह से बंद हैं। बहुत जरूरी काम होगा या कोई इमरजेंसी तभी निकल सकते हैं। पब्लिक ट्रांसपोर्ट में टैक्सी अनुमति होगी लेकिन एक कार में एक बार में केवल 2 यात्री ही चल सकते हैं।  

मध्यप्रदेश में ऑरेंज जोन खत्म किया गया
मध्यप्रदेश में लॉकडाउन-4 अलग ढंग एवं अलग स्वरूप में होगा। हमें जान के साथ जहान भी बचाना है। इसलिए पूरे मध्यप्रदेश को दो जोन रेड एवं ग्रीन में बांटा गया है।'' उन्होंने कहा, ''रेड जोन के अंतर्गत इंदौर, उज्जैन जिले का संपूर्ण क्षेत्र, भोपाल, बुरहानपुर, जबलपुर, खंडवा एवं देवास के नगर निगम क्षेत्र तथा मंदसौर, नीमच, धार व कुक्षी के नगर पालिका क्षेत्र होंगे।'' चौहान ने कहा, ''प्रदेश के शेष सभी जिले ग्रीन जोन में रखे गए हैं।'' उन्होंने कहा कि रेड जोन में एक सप्ताह तक बाजार बंद रहेंगे तथा इसके बाद समीक्षा कर निर्णय लिया जाएगा

21 मई से जिलों में चलेंगी बसें
निजी कार्यालय, यहां तक कि शॉपिंग मॉल के अंदर भी, 50% स्टाफ के साथ काम कर सकते हैं। 21 मई से इंटर जिला बसों की अनुमति दी जाएगी। 27 मई से 2 पीपीएल के साथ ऑटो-रिक्शा संचालित हो सकते हैं। ब्यूटी पार्लर और सैलून खोल सकते हैं लेकिन सभी उपकरणों को साफ करना चाहिए।

 

Tags

Related Articles

Back to top button
Close