मध्य प्रदेश

कोरोना महामारी के बीच खंडवा कलेक्टर की लापरवाही आई सामने

 भोपाल
प्रदेश में जहां कोरोना महामारी के बीच कई कलेक्टर मानव सेवा की मिसाल पेश कर रहे हैं, वहीं खंडवा कलेक्टर तन्वी सुंद्रियाल पर मानवता के खिलाफ काम करने के आरोप लग रहे हैं। ये आरोप किसी और ने नहीं बल्कि सत्तारुढ़ दल भाजपा के विधायक ने लगाए हैं। विधायक राम डांगोरे ने कलेक्टर पर आरोप लगाया कि बीस दिन पहले 340 किलोमीटर पैदल चलकर खंडवा पहुंची 7 माह की गर्भवती के मामले में कलेक्टर ने गैर मानवीय रवैया अपनाया। जिसके चलते मानवता शर्मसार हुई है। साथ ही विधायक ने कलेक्टर पर कोरोना महामारी से निपटने में लापरवाही का आरोप भी लगाया है। विधायक डांगोरे ने इस संबंध में मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर कलेक्टर को हटाने की मांग की है। गौरतलब है कि सोमवार को कोरोना की समीक्षा बैठक के दौरान खंडवा कलेक्टर को सीएम की फटकार का भी सामना करना पड़ा था। जहां एक ओर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान दूसरे राज्यों से आने वाले मजदूरों को लेकर गंभीर हैं, वहीं इस मामले में खंडवा कलेक्टर की लापरवाही सामने आई है।  इस बीच कलेक्टर पर आरोप है कि उनकी लापरवाही के चलते खंडवा में कोरोना संक्रमण तेजी से पैर पसार रहा है और हालात यहां तक बने कि एक दिन में 69 नए केस कोरोना पॉजिटिव के सामने आ चुके हैं। सरकार इसको लेकर गंभीर हुई है।

विधायक बोले- देश में दहशत, यहां दीवाली का माहौल, समोसे-कचौरी बंट रहे
विधायक का आरोप है कि  24 घंटे में 90 कोरोना पॉजिटिव मरीज खंडवा में सामने आए हैं  जो इस लापरवाही उजागर करते हैं। जहां पूरा देश प्रदेश कोरोना संकट से परेशान हैं, वहां खंडवा में दिवाली जैसा माहौल है। समोसे-कचोरी बांटे जा रहे हैं। यह कोरोना प्रशासन की लापरवाही से बढ़ रहे हैं। उन्होंने सवाल उठाया कि कलेक्टर करोड़ों की संख्या और मौतों को लेकर गलत जानकारी दे रही हैं। यहां का खुफिया तंत्र भी कलेक्टर की गलती पर पर्दा डाल रहा है। एक वीडियो में एमएलए डंगोरे ने वॉयरल कर कहा है कि मौत होने पर कोरोना संक्रमण की आशंका के चलते यहाँ सेम्पल नहीं ली जा रहे हैं और मौत का आॅडिट नहीं किया जा रहा है। इसीलिए परेशान होकर उन्होंने मुख्यमंत्री से शिकायत की है।

Related Articles

Back to top button
Close