छत्तीसगढ़

कोचियों के पास धान बेंचने मजबूर है किसान – डा. रमन

रायपुर
कोई दिन ऐसा नहीं जा रहा जब भाजपा व कांग्रेस एक दूसरे को धान के मुद्दे पर घेरने की कोशिश न कर रहे  हों,सीमा पर चौकसी बरती जा रही है और अवैध परिवहन रोके जा रहे हैं। अब पूर्व मुख्यमंत्री डा.रमनसिंह की नई मांग आ गई है कि धान खरीदी की तारीख सरकार ने आगे बढ़ा दी है ऐसे में किसान कोचियों के पास औने पौने कीमत पर धान बेंचने मजबूर हो रहे हैं। कम से कम सरकार किसानों की धान खरीदकर उन्हे अभी आधा पैसा दे दे और जब समर्थन मूल्य में खरीदी शुरू हो तो बकाया पैसा का भुगतान कर दें।  लेकिन किसानों को परेशान मत करिए कि उनके धान को रोककर उनके खिलाफ ही कार्रवाई की जाए.

यदि सीमा पार कर राज्य के अंदर अवैध परिवहन हो रहा है, तो क्या चेक पोस्ट काम नहीं कर रहा है?अंतरराज्यीय बॉर्डर पर चौकसी होनी चाहिए. बॉर्डर को सील कर देना चाहिए.उन्होंने कहा कि धान के अवैध अंतरराज्यीय तस्करी पर प्रतिबंध लगाना उचित है, लेकिन आश्चर्य होता है कि इसकी आड़ में किसानों को परेशान किया जा रहा है. पता चला है कि बिलासपुर, बलौदाबाजार, रायपुर के आस-पास के क्षेत्रो में अवैध रूप से धान को पकड?े का काम हो रहा है. इस समय किसानों के पास विकल्प नहीं है.

Related Articles

Back to top button
Close