राजनीति

केन्द्र सरकार की आर्थिक नीतियों के खिलाफ कांग्रेस का रोष प्रदर्शन 15 नवंबर को

 नई दिल्ली 
पंजाब कांग्रेस 15 नवंबर को केन्द्र सरकार की गलत आर्थिक नीतियों के विरोध में राज्य के सभी जिलों में रोष प्रदर्शन करेगी। इस आशय का फैसला पाटीर् के प्रदेश अध्यक्ष सुनील जाखड़ की अध्यक्षता में आज यहां हुई कांग्रेस के जिला अध्यक्षों की  बैठक में लिया गया। बैठक में गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व को यादगारी तरीके से मनाने और स्थानीय निकाय के चुनावों की तैयारी शुरू करने के लिए भी ड्यूटियां लगाई गईं।

जाखड़ ने कहा कि मोदी सरकार की गलत आर्थिक नीतियों के कारण देश व्यापक मंदी का शिकार है तथा उद्योग बंद हो रहे हैं और बेरोजगारी चरम पर है। नौजवानों को नए रोजगार मिलने की बजाय पहले से रोजगार में लगे लोगों के रोजगार खो रहे हैं। देश आर्थिक मोचेर् पर सबसे बुरे दौर में से गुजर रहा है। केंद्र सरकार की इन्हीं नाकामियों को प्रकट करने के लिए पाटीर् 15 नवंबर को प्रदेश भर में विरोध प्रदर्शन करेगी।

उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार जो क्षेत्रीय व्यापक आर्थिक भागीदारी समझौता करने जा रही है ,यदि यह समझौता हो गया तो देश के किसानों व दूध उत्पादकों की आर्थिकता पूरी तरह तबाह हो जाएगी। इस समझौते से विदेशों से सस्ते अनाज व दूध उत्पादों का आयात हो सकेगा। इसका सीधा बुरा प्रभाव हमारे देश के किसानों पर पड़ेगा।  किसानों को पहले ही उनकी उपज का पूरा मूल्य नहीं मिल रहा हैृ। उनके अनुसार केंद्र की भाजपा नीत मोदी सरकार की सभी नीतियां ही किसान विरोधी हैं पर यह समझौता करके मोदी सरकार किसानों को भिखारी बनाने पर तुली हुई हैृ। मोदी सरकार की लोक विरोधी नीतियों का विरोध करने व देश के लोगों को इसके विपरीत प्रभावों के बारे में जागरूक करने के लिए देशव्यापी प्रदर्शनों का कार्य पाटीर् द्वारा तैयार किया गया है । 
 

Tags

Related Articles

Back to top button
Close