मध्य प्रदेश

कृषि क्षेत्र में समृद्धि लाकर मध्यप्रदेश को बनाएंगे विकसित प्रदेश: मुख्यमंत्री कमल नाथ

भोपाल
मुख्यमंत्री कमल नाथ ने कहा है कि हम कृषि क्षेत्र में समृद्धि लाकर मध्यप्रदेश को विकसित प्रदेश बनाएंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि वे घोषणाएँ नहीं करते, वचन देते हैं और उसे पूरा करते हैं। कमल नाथ आज छतरपुर जिले की बिजावर तहसील में द्वितीय मोनिया महोत्सव का शुभारंभ कर विशाल जनसभा को संबोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री कमल नाथ ने कहा कि हमारे प्रदेश की 70 प्रतिशत आबादी कृषि क्षेत्र पर निर्भर है। जब तक हम किसान को उसके उत्पादन का उचित मूल्य नहीं दिलवा पाते, उनकी आय को दोगुना नहीं करते, तब तक देश का समग्र विकास नहीं हो सकता। उन्होंने कहा कि हम सिंचाई संसाधनों को बढ़ाकर कृषि क्षेत्र को उन्नत बनाएंगे और एक नई क्रांति का सूत्रपात करेंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार ने मात्र 10 माह में कृषि, रोजगार, निवेश के साथ विभिन्न वर्गों की भलाई और तरक्की के लिए महत्वपूर्ण निर्णय लिए हैं। हमने तय किया है कि प्रदेश में लगने वाले उद्योगों में 70 प्रतिशत रोजगार स्थानीय युवाओं को देना अनिवार्य होगा।

मुख्यमंत्री कमल नाथ ने कहा कि मैं आज बिजावर क्षेत्र में आया हूँ, जहाँ विकास हमेशा उपेक्षित रहा है। इसलिए मैं यहाँ की स्थिति से अवगत होने आया हूँ। उन्होंने ने कहा कि वे जनवरी माह में फिर से छतरपुर आएंगे और दो माह में बिजावर क्षेत्र के विकास लिये किये गये कार्यों का हिसाब देंगे।

वाणिज्यिक कर मंत्री बृजेन्द्र सिंह राठौर ने कहा कि छतरपुर जिले में सिंचाई की सुविधा और पेयजल की उपलब्धता बढ़ाई जाएगी। इससे पलायन रूकेगा और क्षेत्र में खुशहाली आएगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश में निवेश का वातावरण बना है और उद्योगपति पूर्ण विश्वास के साथ आ रहे हैं।

नगरीय विकास एवं आवास मंत्री जयवर्द्धन सिंह और कुटीर एवं ग्रामोद्योग मंत्री हर्ष यादव ने भी सभा को संबोधित किया। विधायक राजेश शुक्ला ने बिजावर क्षेत्र की जनता की ओर से विकास की अपेक्षाओं से मुख्यमंत्री को अवगत करवाया।

मोनिया नृत्य में शामिल हुए मुख्यमंत्री
मुख्यमंत्री कमल नाथ मोनिया महोत्सव में लोकनृत्य दल के बीच पहुँचे और नृत्य की पारंपरिक ड्रेस पहनकर दल के साथ नृत्य में शामिल हुए। मुख्यमंत्री को अपने बीच पाकर मोनिया दल के सदस्य उत्साहित हुए।

इस मौके पर विधायक आलोक चतुर्वेदी, नीरज दीक्षित, प्रद्युम्न सिंह लोधी, संजीव सिंह कुशवाह, शिवदयाल बागरी, नीलांशु चतुर्वेदी, जिला पंचायत अध्यक्ष सुश्री कलावती अनुरागी और पूर्व मंत्री रामकृष्ण कुसमरिया उपस्थित थे।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close