उत्तर प्रदेश

कालका मेल में धक्का-मुक्की, सेंट्रल पर गिरी महिला की मौत

 कानपुर 
हावड़ा से कालका जा रही 12311 कालका मेल में चढ़ रही महिला दरवाजे पर हो रही धक्कामुक्की की वजह से गिर गई। चलती ट्रेन से प्लेटफॉर्म पर मुंह के बल गिरने से सिर फट गया। मौके पर ही उसकी मौत हो गई। महिला के पास मिले मोबाइल से पुलिस ने बहन को सूचना दी और शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

परभंसनगर, दिबियापुर, औरैया निवासी उर्मिला देवी (63) अपनी बहन के पास पिछले सप्ताह फतेहपुर गई थीं। सोमवार को बहन की बेटी रानी ने घर जाने के लिए उन्हें दिलाया और कानपुर सेंट्रल के बाहर छोड़ दिया। जीआरपी एसएसआई श्यामलाल यादव ने बताया कि उर्मिला देवी प्लेटफॉर्म नंबर एक पर पहुंचीं तो कुलियों से फफूंद जाने वाली ट्रेन के बारे में पूछा। कुलियों ने प्लेटफॉर्म नंबर एक पर खड़ी कालका मेल की ओर इशारा किया। इस पर वह गार्ड से सटे जनरल कोच की ओर दौड़ीं। कोच तक पहुंचने से पहले ट्रेन चल दी फिर भी वह चढ़ने लगीं।

जनरल कोच के दरवाजे पर भीड़ लगी थी और पहले से गेट पर खड़े यात्रियों के बीच अंदर जाने को लेकर धक्कामुक्की हो रही थी। उर्मिला देवी ने अंदर जाने को कोच की फर्श पर पैर रखा तो उन्हें धक्का लगा और प्लेटफॉर्म पर गिर गईं। माथे पर चोट लगने से खून बहने लगा। आसपास के लोगों ने उन्हें उठाकर किनारे लिटा दिया। सूचना पर रेलवे डॉक्टर ने चेक करने के बाद मृत घोषित कर दिया। इस बीच सवा घंटे तक उनका शव प्लेटफॉर्म पर पड़ा रहा।