छत्तीसगढ़

कवर्धा में बांध के पास तैरता मिला तेंदूए का शव, पीएम रिपोर्ट बताएगा मौत की असली वजह

कवर्धा
कवर्धा के कर्रानाला बांध में तेंदूए का शव तैरता मिला है. माना जा रहा है कि डूबने से इस वयस्क तेंदूए की मौत हुई है. तेंदूए के शव से छेड़छाड़ नहीं की गई है. शरीर के सभी हिस्से सही सलाम है,जिससे अंदाजा लगायाजा रहा है कि मामला शिकार से जुड़ा नहीं हो सकता. हालांकि तेंदूए की मौत की असली वजह अब पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही साफ हो पाएगा. मामला सिंघनपुरी थाने के कर्रानाला की बताई जा रही है.

सोमवार को ग्रामीणों ने पानी में तैरते हुए मृत तेंदूए को देखा. मामले की जानकारी पुलिस और वन अमले को दी गई. मौके पर पहुंच कर वेटनरी और वन विभाग की टीम ने मौके का मुआयना किया. शव का पीएम कराया गया जिसके बाद उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया. डीएफओ दिलराज प्रभाकर ने बताया कि तेंदूए का शव मिलने की सूचना मिली थी जिसका पीएम कराया गया है. रिपोर्ट के बाद ही मौत की वजह साफ हो पाएगी. फिलहाल जांच की जा रही है.

ग्रामीणों ने बताया कि तेंदूए का शव देखने के बाद उसकी सूचना वन और पुलिस महकमे को दी गई. इसके बाद वन विभाग ने अपने वेटनरी डॉक्टरों को मौके पर पहुंचे. तेंदूए के शव को पानी से बाहर निकाला गया. परिक्षण के बाद शव का पीएम किया गया. पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत की वजह साफ हो पाएगी.

कवर्धा जिले में लगातार हो रही वन्यप्राणियों की मौत चिंता का विषय है. इससे पहले भी पानी में डूबने से तेंदूए की मौत का मामला सामने आया था. हिरण,चितल की मौत तो आम बात हो गई है. आए दिन पानी की तलाश में गांव की तरफ आए चितल,हिरण को कुत्ते घायल कर मौत के घाट उतार रहे हैं. वहीं कवर्धा जिले में दो बाघों का शिकार भी हो चुका है. लिहाजा वन अमले को ज्यादा सावधानी बरतने की जरूरत है.

Related Articles

Back to top button
Close