उत्तर प्रदेश

 कर्ज में डूबे युवक ने दो बच्चों और गर्भवती पत्नी को मारकर खुद भी लगाई फांसी

 वाराणसी 
वाराणसी में बुधवार की सुबह दर्दनाक हादसा हो गया। कैंट थाना क्षेत्र के हुकुलगंज में कर्ज में डूबे युवक ने पत्नी और दो बच्चों को जहर देकर मारने के बाद फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। परिवार के चार लोगों की एक साथ मौत से कोहराम मच गया। पत्नी गर्भवती भी थी।  मोमो बेचकर परिवार चलाने वाला 33 वर्षीय किशन गुप्ता तीन भाइयों में सबसे बड़ा था।

माता-पिता, भाइयों पत्नी नीलम और दो बच्चों 7 वर्षीय शिखा और 6 वर्षीय उज्जवल के साथ हुकुलगंज स्थित मकान में रहता था। बुधवार की सुबह करीब 11 बजे भाई प्रकाश ने किशन का शव गमछे के सहारे रोशनदान से लटकता देखा। उनकी चीख पर जुटे परिजन कमरे के अंदर पहुंचे तो किशन की पत्नी और दोनों बच्चे बेड पर बेसुध पड़े थे। हिलाने पर भी नहीं उठे तो शोर मचाया।

कुछ देर में ही आसपास के लोग और पुलिस पहुंच गई। जांच में पता चला कि तीनों की भी मौत हो चुकी थी। पुलिस ने आशंका जताई कि तीनों को जहर देने के बाद युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। पिता के अनुसार बहन की शादी के लिए युवक ने करीब दस लाख रुपये का कर्ज लिया था। उसी को लेकर परेशान था।

हालांकि परिवार और अगल बगल के लोगों के अनुसार युवक की परिवार के लोगों के साथ काफी झगड़ा लड़ाई होती थी। परिवार के ही उत्पीड़न को भी मौत का कारण बताया जा रहा है। स्थानीय पुलिस के साथ एसपी सिटी भी मौके पर पहुंचे और लोगों से बातचीत की।

Related Articles

Back to top button
Close