व्यापार

एयरटेल को चौथी तिमाही में 5,237 Cr का घाटा

नई दिल्ली
दूरसंचार कंपनी भारती एयरटेल ने वित्त वर्ष 2019-20 की मार्च तिमाही में 5,237 करोड़ रुपये का घाटा दिखाया है। कंपनी ने सोमवार को कहा कि उसे यह घाटा पुराने सांविधिक बकाये को लेकर व्यय का ऊंचे प्रावधान करने के कारण हुआ है। वित्त वर्ष 2018-19 की इसी तिमाही में उसे 107.2 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था।

कंपनी का एकीकृत राजस्व आलोच्य तिमाही के दौरान करीब पंद्रह प्रतिशत सुधर कर 23,722.7 करोड़ रुपये रहा। यह 2018-19 की समान तिमाही में 20,602.2 करोड़ रुपये रहा था।

कंपनी ने 31 मार्च 2020 को समाप्त तिमाही के दौरान 7,004 करोड़ रुपये का अलग से प्रावधान किया। इसमें अधिकांश हिस्सा विधायी बकाये को लेकर है। मार्च 2020 में समाप्त वित्त वर्ष में कंपनी को इसी तरह के बड़ी राशि के प्रावधान के चलते 32,183.2 करोड़ रुपये का घाटा हुआ।

वर्ष के दौरान कंपनी का कुल राजस्व 87,539 करोड़ रुपये रहा। वित्त वर्ष 2018-19 में कंपनी को 409.5 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था और उस वर्ष राजस्व 80,780.2 करोड़ रुपये था। 

Related Articles

Back to top button
Close