मध्य प्रदेश

एट्रोसिटी एक्ट के खिलाफ आज सपाक्स की रैली, काला दिवस मनाएगी पार्टी

भोपाल
सपाक्स पार्टी (Samanya Picchdda aplsankhyakvarg Adhikari karmchari sanstha) का आज स्थापना दिवस है. पार्टी इसे काला दिवस के रूप में मना रही है. भोपाल में वो आज रैली निकालकर लोगों से समर्थन मांगेगी. पार्टी अध्यक्ष हीरालाल त्रिवेदी (Heeralal Trivedi) का कहना है कि पार्टी की स्थापना ही आरक्षण (Reservation) को खत्म करने के लिए की गई थी. एट्रोसिटी एक्ट (Atrocity Act) को लेकर केंद्र सरकार का रवैया तानाशाहपूर्ण है. उन्होंने कहा इस तरह के कानून सामाजिक भेदभाव (Social discrimination) को बढ़ाने वाले हैं और सपाक्स पार्टी इसकी खिलाफत करने सड़क पर उतर रही है.उन्होंने कहा एट्रोसिटी एक्ट के खिलाफ उनकी पार्टी रैली निकालकर भोपाल में लोगों से समर्थन की अपील करेगी.

विधानसभा चुनाव के समय सपाक्स पार्टी अस्तित्व में आई थी, जिसका एकमात्र लक्ष्य ही था आरक्षण के खिलाफ लड़ाई. हीरालाल त्रिवेदी का कहना है कि एट्रोसिटी एक्ट जैसे भेदभावपूर्ण कानून को खत्म करने की मांग को लेकर पार्टी काला दिवस मना रही है. उन्होंने कहा कि एट्रोसिटी एक्ट जैसे भेदभाव पूर्ण कानून को खत्म किया जाना चाहिए और सभी वर्गों के लिए एक समान कानून लागू किया जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि जातिगत आरक्षण को समाप्त करके आर्थिक आधार पर सभी वर्गों को 50 प्रतिशत आरक्षण दिया जाना चाहिए. साथ ही नौकरियों में पदोन्नति के लिए जो आरक्षण दिया जाता है केंद्र और राज्य सरकार को उसको भी खत्म करने की आवश्यकता है.

उन्होंने कहा कि योग्यता के आधार पर ही प्रमोशन मिलना चाहिए. उन्होंने बताया कि स्थापना दिवस के दिन सपाक्स पार्टी भोपा के हलालपुर बस स्टैंड से लेकर दशहरा मैदान तक रैली निकाली निकालेगी. इस रैली के ज़रिए ही आरक्षण के खिलाफ आंदोलन का फिर से शंखनाद किया जाएगा.

सपाक्स पार्टी की मुख्य मांगें

  • एट्रोसिटी जैसे भेदभावपूर्ण कानून को खत्म कर सभी वर्गों के लिए एक समान कानून बने.
  • जातिगत आरक्षण खत्म कर आर्थिक आधार पर सभी वर्गों के लिए समान रूप से 50 प्रतिशत आरक्षण लागू किया जाए
  • एक बार जिस परिवार को आरक्षण मिल जाए उसे दोबारा लाभ ना दिया जाए ताकि गरीबों को इसका लाभ मिल सके.
  • देश में जाति के आधार पर समाज को बांटने वाली गंदी राजनीति बंद हो
  • केंद्र एवं राज्यों में सभी प्रकार की पदोन्नतियों में आरक्षण खत्म हो

Related Articles

Back to top button
Close