मध्य प्रदेश

इंदौर में आरोपी की गिरफ्तारी के विरोध में लोगों ने पुलिस पर किया पथराव

इंदौर
मध्य प्रदेश में COVID-19 के कहर के बीच इंदौर (Indore) में कोरोना की रोकथाम में जुटी पुलिस को एक बार फिर निशाना बना गया. शहर के रावजी बाजार इलाके में आज फिर पुलिसवालों पर पत्थर फेंके गए. यहां लॉकडाउन (Lockdown) का उल्लंघन करने पर पुलिस ने एक शख्स को गिरफ्तार किया था. स्थानीय लोग इसके विरोध में सड़क पर उतर आए और थाने का घेराव कर दिया. जब पुलिस ने लोगों को रोकने की कोशिश की, तो भीड़ में शामिल लोगों ने पथराव शुरू कर दिया. घटना का वीडियो वायरल (video viral) हो रहा है. इसके आधार पर पुलिस अब आऱोपियों की पहचान कर रही है.

रावजी बाजार कंटेनमेंट एरिया है. इसके बावजूद लोग सड़कों पर इकट्ठा होकर जूलूस निकाल रहे हैं. इस इलाके में कब्रिस्तान में 50 से ज्यादा लोग इकट्ठा हो गए थे. मामले में पुलिस ने सोमवार को एक शख्स के खिलाफ लॉकडाउन तोड़ने पर धारा 188 के तहत मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया था. मंगलवार को इसी के विरोध में लोग सड़कों पर उतर आए थे.

स्थानीय लोग पुलिस के खिलाफ सड़क पर उतरकर प्रदर्शन कर रहे थे. इन लोगों ने जुलूस निकाला और नारेबाजी शुरू कर दी. पुलिस ने इनसे वापस जाने की अपील की, लेकिन लोग नहीं माने. पुलिस ने जब इन्हें खदेड़ने की कोशिश की तो उनमें से कुछ लोगों ने पुलिस पर पत्थर फेंकने शुरू कर दिए. रावजी बाजार पुलिस पर हमले का यह वीडियो वायरल हो गया है.
 
इंदौर प्रदेश का सबसे ज्यादा कोरोना संक्रमित शहर है. यहां के कंटेनमेंट इलाकों में लोग लगातार कोरोना वारियर्स को निशाना बना रहे हैं. इससे पहले टाटपट्टी बाखल इलाके में मेडिकल टीम पर हमला किया गया था. रानीपुरा में अभद्रता और टीम पर थूका तक गया था. चंदन नगर में घर से बाहर खड़े होने से मना करने पर युवकों  ने पुलिस पर पथराव किया था.

Related Articles

Back to top button
Close