छत्तीसगढ़

अंजलि ने किया भागने का प्रयास, फिलहाल रिहाई नहीं

रायपुर
हाईकोर्ट ने धमतरी के विवादित अंतरजातीय विवाह पर फैसला तो दे दिया है कि अंजलि अपनी मर्जी से जिसके साथ रहना चाहे रह सकती है। इसलिए रायपुर के सखी सेंटर में रह रहे अंजलि जैन को छोड?ा था लेकिन दोनों पक्षों की मौजूदगी में ही उसे छोड़ा जाता। आज अंजलि के ससुराल वाले तो पहुंच गए लेकिन मायके वालों के संदर्भ में दो तरह की बातें सामने आ रही है एक जिसमें कहा गया है कि पूरा परिवार दिल्ली में हैं। उन्हे आने में दो तीन दिन लग सकता है। वहीं अंजलि के पिता के भाई का बयान आया है कि उनके भाई और बहु कहां हैं उन्हे नहीं मालूम,घर में ताला लगा हुआ है।

पुलिस वाले उनके घर के बाहर एक नोटिस लगा गए हैं। कोर्ट के आदेश में लिखा हुआ है कि परिजनो की मौजूदगी में ही उसे सखी सेंटर से छोड?ा है इसलिए पुलिस की भी मजबूरी है आदेश का पालन करना। इसलिए उनके आने तक अंजलि को सखी सेंटर में ही रहना होगा। इस बीच अंजलि ने आज सखी सेंटर से भागने का भी प्रयास किया जिसे स्टाफ की सतर्कता से पकड़ लिया गया और इसके लिए पुलिस की भी मदद ली गई। पुलिस अभी सखी सेंटर में निगरानी रखे हुए हैं। क्योंकि यह मामला काफी तूल पकड़ चुका था और हाईकोर्ट के फैसले के बाद इसका निराकरण हुआ लेकिन पूरी तरह नहीं जब तक वह सखी सेंटर से बाहर वह अपनी मर्जी से किसके साथ जाती है।

Related Articles

Back to top button
Close