भारत सहित दुनिया के अधिकांश देशों से राजशाही भले ही खत्म हो गई हो, लेकिन बीते जमाने के राजा-महाराजाओं की कुछ आदतों की चर्चा आज भी दुनियाभर में होती है। आइए, आज आपको बताते हैं कुछ ऐसी ही राजा व रानियों के बारे में, जिनकी जीवन शैली सनक भरी आदतों से ग्रसित थी।

- आपने राजा-महाराजाओं की अय्याशियों की कई कहानियां पढ़ी होगी, लेकिन इस मामले में इजिप्ट के भी एक राजा पीछे नहीं है। किंग फारुख के पास दुनिया का सबसे बड़ा पोर्नग्राफी कलेक्शन था। जब फारुख का साम्राज्य खत्म हुआ तो लुटेरों ने उनके संग्रह में मौजूद पोर्न तस्वीरों को भी लूट लिया था।

- स्पेन के ख्यात राजा चार्ल्स पंचम की मां जोअन्ना ऑफ कैसटाइल के पागलपन की कहानियां भी इतिहास के पन्नों में दर्ज हैं। जोअन्ना ने फिलिप द हैंडसम से शादी की थी। दोनों एक-दूसरे को बेहद प्यार करते थे। जोअन्ना ने फिलिप की मौत के बाद भी उनकी लाश को संभालकर रखा था, यहां तक कि जब वह सफर पर जाती थी, तब भी अपने साथ पति का शव लेकर जाती थी। जोअन्ना ने अपने कमरे में `12 महीने तक पति का शव रखा था। यहां तक कि रात में वह लाश के साथ सोती भी थी।

- इंग्लैंड के किंग हेनरी तृतीत ने अपने शासनकाल में वैसे तो कई सुधार कार्य किए, लेकिन उनके द्वारा शुरू की गई 'ग्रूम ऑफ द स्टूल' को पोस्ट बेहद चर्चा में रहती है। दरअसल राजा इस पोस्ट पर अपने ही किसी भरोसेमंद व्यक्ति के पुत्र का नियुक्त करता था, जिसका काम राजा को टायलेट कार्य में मदद करना होता था। राजा का यह सेवक अपने साथ एक छोटा पोर्टेबल टायलेट हमेशा रखता था और जैसे ही राजा का 'इमरजेंसी कॉल' आता था, सेवा के लिए तैयार रहता था। राजा इस व्यक्ति को अच्छी खासी सैलरी देता था और इसे सम्मानित कार्य का दर्जा दिया गया था। हेनरी तृतीय द्वारा शुरू की गई यह परंपरा आने वाले 400 वर्ष तक जारी रही।

- अठारवीं शताब्दी में डेनमार्क के किंग क्रिस्टियन-8 मानसिक विकार से ग्रसित था और अकेला रहना पसंद करता है। उसे हस्तमैथुन की लत का आदि हो गया था। उसके पर्सनल डॉक्टर जॉन फ्रेडरिक ने अपनी किताब में लिखा था कि उस पर हस्तमैथुन की आदत पागलपन तक सवार हो गई थी।

- 15वीं शताब्दी में जर्मनी की राजकुमारी और बाद में रानी बनी मारिया एलेओनोरा पर भी जोअन्ना जैसा ही जुनून सवार था। वह भी अपने पति और राजा King Gustavus Adolphus से बेहद प्यार करते थी, इसलिए नहीं कि वह बेहद ताकतवर सम्राट और धनी राजा थे, बल्कि इसलिए क्योंकि वह एक बेहद अच्छे दिल वाले इंसान थे। अपने पति की मौत के बाद मारिया ने उनका दिल निकलवा कर एक सोने के बॉक्स में संभाल कर रख लिया था। मारिया की बेटी ने भी अपनी किताब में इस घटना का उल्लेख किया है।