नंबर एक की ओर अग्रसर हो रहा रीवा, समान तिराहे में बनेगा फ्लाईओवर

रीवा। एमपी के उद्योग, वाणिज्य एवं खनिज साधन मंत्री राजेन्द्र शुक्ल ने रविवार को अपने अमहिया स्थित निवास में मीडियाकर्मियों से बातचीत में कहा कि रीवा के समान तिराहा में ओव्हरब्रिज बनाया जायेगा। इसके साथ ही स्टेडियम से करहिया मंडी तक नई सड़क की सौगात अतिशीघ्र शहरवासियों को मिलने जा रही है। उद्योग मंत्री ने कहा कि मनगवां से चाकघाट और सतना से बेला तक अधूरी पड़ी फोरलेन सड़क का शीघ्र निर्माण करा लिया जाएगा। इस संबंध में केन्द्रीय भूतल परिवहन मंत्री नितिन गड़करी से चर्चा हो चुकी है। उनके निर्देशन पर सड़क बनाने वाली कम्पनी को अधूरी पड़ी सड़क 6 माह के भीतर बनाने के निर्देश दिए गए है। इस संबंध में जल्द ही एक उच्च स्तरीय बैठक बुलाई जा रही है। जिसमें सारी रूपरेखा तैयार कर ली जाएगी। इस वर्ष के अंत में उक्त सड़क का निर्माण कार्य पूरा कर लिया जावेगा।

नेशनल हाईवे से जुड़ेगे सभी कस्बे, 540 करोड़ स्वीकृत 

श्री शुक्ल ने रविवार को रीवा के मीडियाकर्मियों को  ब्रेकफास्ट पर बुलाया था। नाश्ते से पहले पत्रकारों से चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि कि फोर लेन बनने से रीवा, रायपुर, मनगवां, देवतालाब, मऊगंज, हनुमना, गुढ़ सहित अन्य कस्बों में बाईपास सड़क बनानी पड़ी है। मुख्यमंत्री के निर्देशन पर इस बाईपास से आंतरिक सड़कों को जोड़ने के लिए टू-लेन आरसीसी सड़क बनाने की नई योजना बनाई गई है। जिसमें रीवा के लिए 540 करोड़ रूपए स्वीकृत किए जा चुके हैं। यह काम शीघ्र ही शुरू कर लिया जाएगा। आंतरिक सड़कों के बन जाने से कस्बाई इलाके नेशनल हाईवे से जुड़ जाएंगे, ऐसी स्थिति में रीवा संभाग इंफ्रास्ट्रक्चर के मामले में प्रदेश में नंबर वन बन जाएगा। 

बढ़ेगा सिंचाई का रकवा 

मंत्री राजेन्द्र शुक्ल ने बताया कि दिसम्बर 2017 तक बाणसागर की त्योंथर फ्लो और बहुती नहर को पूरा करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। 1500 करोड़ की इस योजना के पूरा होने पर जिले में सिंचाई का कुल रकवा बढ़कर 4 लाख एकड़ हो जाएगा। 

स्टेडियम से करहिया मंडी तक नई सड़क 

रीवा शहर की चर्चा करते हुए मंत्री जी ने बताया कि रीवा में स्वच्छ पानी, गन्दा पानी, स्पोर्टस काम्प्लेक्स के निर्माण की दिशा में तेजी से काम किया जा रहा है। विश्वविद्यालय रोड पर स्थित स्टेडियम से नीम चौराहा होते हुए करहिया मंडी तक 7 मीटर चौड़ी सड़क बनाने की स्वीकृति प्राप्त हो चुकी है। इस सड़क के बन जाने से शहर की मुख्य सड़क में भीड़ का दबाव कम हो जाएगा। उन्होने बताया कि धोबिया टंकी को बेहतर बनाने की दिशा में काम चल रहा है इसके अलावा पीटीएस से एसएएफ चौराहा तथा बिछिया तक सड़क का और चौड़ीकरण किया जाएगा। पत्रकारों के सुझाव पर श्री शुक्ल ने कहा कि रतहरा की गडरिया रोड को इलाहबाद से गुढ रोड के लिए मिनी बाईपास बनाने का प्रस्ताव भेजा जायेगा।  

कचरे से बनेगी बिजली, भोपाल, जबलपुर के बाद रीवा को मिली स्वीकृति 

मंत्री श्री शुक्ल ने बताया कि स्टेडियम के पास शीघ्र ही स्पोर्टस काम्प्लेक्स का निर्माण कराया जाएगा। इसके लिए आईटीआई से 10 एकड़ जमीन वापस लेने की कार्यवाही की जा रही है। श्री शुक्ल के मुताबिक घर-घर कचरा योजना के तहत जो कचरा इकट्ठा किया जा रहा है उससे बिजली तैयार की जाएगी। यह योजना जबलपुर और भोपाल के अलावा सिर्फ रीवा के लिए स्वीकृत की गई है, जिसके लिए शीघ्र ही टेंडर बुलाए जा रहे हैं। 25 एकड़ जमीन को आरक्षित कर लिया गया है, जिसमें 6 मेगावाट बिजली का उत्पादन किया जाएगा। 

सामान तिराहा पर बनेगा फ्लाई ओवर ब्रिज 

मंत्री राजेन्द्र शुक्ल ने बताया कि एनएच 7 में आवागमन का दबाव कम करने के लिए कॉलेज चौराहा के तरह ही समान तिराहा में फ्लाई ओव्हर के निर्माण की स्वीकृति प्राप्त हो चुकी है। एक सवाल के जबाव में उन्होने बताया कि रीवा में उद्योग लगाने हेतु गुढ़ के पास जहां सोलर प्लांट बनाया जा रहा है, 400 एकड़ की भूमि चिन्हित कर ली गई है। इसी तरह मऊगंज के धुरेहटा में भी 400 एकड़ भूमि आरक्षित कर ली गई है। जिसमें उद्योग लगाए जाएंगे और बेरोजगार युवाओं को रोजगार के अवसर मिलेगे। निकट भविष्य में इस तरह के विकास कार्य जमीन पर नजर आएंगे एवं रीवा प्रदेश में नबर वन की गिनती में शामिल हो जाएगा। रोजगार के संबंध में मंत्री श्री शुक्ल ने कहा कि आने वाले समय में सोलर प्लांट से लेकर छोटे बड़े उद्योगों की स्थापना रीवा में हो रही है, जिसमें हजारों युवाओं को रोजगार के अवसर मिलेंगे। एयरपोर्ट के विकास का कार्य भी तेजी से किया जाएगा, जिसके लिए 1500 लाख रूपए की स्वीकृति प्रदेश सरकार द्वारा दी जा चुकी है।