रीवा। ग्राहक बनकर ज्वेलरी शॉप से सोने-चांदी के जेवर चुराने वाले महिला चोर गिरोह की एक सदस्य को गिरफ्तार करने में पुलिस को सफलता मिली है। महिला के घर से पुलिस ने चोरी किए गए 42 तोला सोने के जेवर बरामद किए हैं। महिला से पूछताछ के बाद उसके दो साथियों को भी गिरफ्तार किया गया है। गिरोह के तीनों सदस्यों को पुलिस ने न्यायालय में पेश कर तीन दिन की रिमाण्ड ली है। पुलिस को उम्मीद है कि शहर की ज्वेलरी शॉप में हुई चोरी सहित लूट व चोरी की अन्य घटनाओं से पर्दा उठ सकता है।

इनकी हुई गिरफ्तारी

गिरफ्तार किए गए आरोपियों के नाम मऊगंज निवासी पुष्पा उर्फ आरती उर्फ बिट्टी पटेल 35 वर्ष निवासी बिझौली थाना हनुमना और साथी रीतेश उर्फ राजन उर्फ मिठाईलाल पटेल को मऊगंज से गिरफ्तार किया गया। जबकि चोरी के जेवर खरीदने वाले कृष्ण कुमार चौबे को गिरफ्तार कर उसके पास से चोरी का सोने का झाला बरामद किया है। महिला के पास से जयपुरिया ज्वेलर्स में चोरी किए गए हार व रीतेश के पास से चांदी के जेवर से भरा डिब्बे सहित कुल 42 तोला सोना व अन्य जेवर बरामद हुए हैं।

सीसीटीवी से मिला सुराग

पुलिस ने बताया कि गत 24 जनवरी को जयपुरिया ज्वेलर्स के संचालक राजेश जयपुरिया ने सिविल लाइंस थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि उसके शिल्पी प्लाजा स्थित दुकान से जेवर चोरी हो गए हैं। पुलिस ने जांच पड़ताल करते हुए दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरे में महिला पुष्पा और युवक का हुलिया देख कर संदिग्ध माना था। इसी बीच घोड़ा चौराहे के पास सोमवार को पुष्पा पटेल पुलिस के हाथ लग गई। महिला से पूछताछ के बाद जेवर चोरी मामले का राज सामने आ गया और उसकी निशानदेही पर पुलिस ने रीतेश पटेल एवं कृष्ण कुमार चौबे को भी गिरफ्तार कर उनके पास से जेवर बरामद कर लिए।

पुरस्कृत होगी पुलिस टीम

चोरी के जेवर बरामद करने व आरोपियों को गिरफ्तार करने में एसआई जीएस बघेल, एसआई एसपी साकेत, पीएसआई रानू वर्मा, प्रधान आरक्षक अखिलेश्वर सिंह, धर्मेन्द्र तिवारी, आरक्षक विनोद तिवारी, आरक्षक कैलाश की भूमिका प्रशंसनीय रही है। अवकाश पर होने के बाद भी टीआई अरूण सोनी इस मामले को अपने अधीनस्थों के साथ संपर्क में रहे। एसपी ने पूरी टीम को पुरस्कृत करने की घोषणा की है।

तब काम आया अनुभव

मामला खुलने के कगार पर जब पहुंचा उस समय बरामदगी को लेकर संशय था। इसी बीच शहर के तेज तर्राट सीएसपी भरत दुबे का अनुभव काम आया। उन्होंने दबिश देने वाली दो टीमों का गठन किया और एकसाथ तीन स्थानों पर दबिश दी गई। जिसके बाद माल बरामद हो सका।

-----------

जेवर चोरी मामले में एक महिला सहित उसके दो साथियों को गिरफ्तार कर उनके पास से चोरी के जेवर बरामद कर लिए गए हैं। तीनों को न्यायालय में पेश किया गया जहां से उन्हें तीन दिन की रिमाण्ड पर लिया गया है। जिससे अन्य चोरी के मामलों में पूछताछ की जा सके।

-सुनील तिवारी, एएसपी, रीवा।