रीवा। मध्य प्रदेश शासन नगरीय प्रशासन एंव विकास विभाग मंत्रालय बल्लभ भवन भोपाल के आदेश क्र. 1249/08/18-2 भोपाल दिनांक 11 अप्रैल 2008 द्वारा किसी निरर्थक पदार्थ, उत्तेजक सामग्री मैले अथवा कचरे को किसी ऐसी सडक पर किसी भी ऐसे स्थान में न फेकेगा और न रखेगा या न तो फेकवायेगा और न रखवायेगा। जो किसी भी भूमि या भवन का स्वामी या अधिवासी हो उस भूमि या भवन से किसी भी मैले कचरे या उत्तेजक समग्री को उससे इस प्रकार बहने, रिसने या गिरने न देगा न उसमे या उस पर किसी भी पदार्थ को इस प्रकार रखेगा या रखने देगा जिससे कि वह किसी व्यक्ति को बाधा हो और न अपने उपांतो पर उत्तेजक सामग्री या निर्थक पदार्थ डाले जाने के किसी पात्र या स्थान को प्रमाद पूर्वक ऐसी स्थिति में रहने देगा जिससे वह उत्तेजक या स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो। उपरोक्त के प्रकाश में आने पर म.प्र. नगर पालिक निगम अधिनियम 1956 की धारा 418 क (1) के तहत प्रदत्त अधिकारों का प्रयोग करते हुए राज्य सरकार एतद् द्वारा निर्देशित करती है कि प्रत्येक नगर निगम इस आदेश के प्रसारित होने के तत्काल बाद अपने कार्य क्षेत्र में यह सुनिश्चित करेगा कि उपरोक्त उद्देश्यो का उल्लंघन करने वालो के विरूद्ध दाण्डित कार्यवाही सुनिश्चित की जाय। म.प्र. शासन नगरीय प्रशासन एंव विकास विभाग मंत्रालय विभाग भोपाल के पत्र क्र. 3347।ध्2009ध्18.3 भोपाल दिनांक 03.11.2009 द्वारा उपरोक्तानुसार प्रत्येक उल्लंघन के लिए राज्य सरकार द्वारा अर्थ दण्ड निर्धारित किया गया है जो निम्नानुसार है ।

ये है जुर्माना की राशि

 सार्वजनिक स्थानों पर पेशाब करना। रू. 250/-

- सार्वजनिक स्थानों पर शौच करना। रू. 500/-

- सार्वजनिक स्थानों पर रसासनिक आवशिष्ट डालना। रू. 1000/-

- सार्वजनिक स्थानों पर हानिकारक द्रव्य बहाना। रू. 1000/-

- सार्वजनिक स्थानों पर किसी प्रकार से गंदगी फैलाना। रू. 250/-

अत: राज्य शासन के उपरोक्त आदेश के पालन मेे मै कर्मवीर शर्मा प्।ै, आयुक्त नगर पालिक निगम रीवा म.प्र. नगर पालिक निगम अधिनियम 1956 की धारा 69 (4) के तहत उपरोक्त आदेश मेें निर्दिष्ट उल्लंघल कर्ताओं के विरूद्ध राज्य शासन द्वारा निर्धारित अर्थदण्ड की वसूली के लिए नगर पालिक निगम रीवा में श्री अरूण मिश्रा सम्पति अधिकारी /प्र. स्वास्थ्य अधिकारी को जुर्माना करने के लिए एंव इस प्रकार निर्धारित किये जुर्माने को प्राप्त कर विधिक रसीद जारी करने के लिये एतद् द्वारा अधिकृत करता हूॅ। संबंधित जन राज्य शासन के निर्देषो का पालन करेगें एंव ऐसे जुर्माने के प्रकरणों को तैयार कर श्री अरूण मिश्रा सम्पति अधिकारी /प्र. स्वास्थ्य अधिकारी जिला अधिवक्ता के माध्यम से सदस्य सक्ष्य न्यायालाय मे प्रस्तुत करने हेतु उत्तरदायी है। अरूण मिश्रा सम्पति अधिकारी /प्र. स्वास्थ्य अधिकारी इन अधिकारो का प्रयोग अधिनियम में वर्णित प्रावधानों, शासन द्वारा समय-समय पर जारी आदशो के क्रम में किया जाना सुनिश्चित करेगें एंव कृत कार्यवाही का पाक्षिक प्रतिवेदन प्रस्तुत करेंगें।