उज्जैन। शहर में पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए गुरूवार रात सेक्स रैकेट का भांडाफोड़ किया था और कई युवक-युवतियों को नानाखेड़ा के एक होटल से गिरफ्तार किया था। सभी को शुक्रवार को कोर्ट में पेश किया गया। जहां से रैकेट चलाने वाले मुख्य सरगना को एक दिन की पुलिस रिमांड पर सौंप दिया गया। वहीं दोनों युवतियों और युवकों को कोर्ट ने जेल भेजने के आदेश जारी कर दिए। पुलिस ने बताया कि दोनों युवतियों अपने परिजन को ब्यूटी पार्लर का काम करने का कहकर आई थीं।

 

महिला टीआई रेखा वर्मा ने बताया कि गुरुवार रात, नानाखेड़ा स्थित होटल परिहार पैलेस से देह व्यापार चलाने वाले सुनील पिता राजाराम राठौड़ निवासी मालवनवासा, जयेश पिता रमेश परिहार निवासी नीलगंगा, मुकेश पिता रामलाल निवासी पंवासा, प्रदीप पिता बद्रीलाल चौरसिया निवासी नमकमंडी सहित भोपाल और कोलकाता की युवतियों को गिरफ्तार किया था। सभी को शुक्रवार को कोर्ट में पेश किया गया। जहां से कोर्ट ने सुनील को एक दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया और अन्य को जेल भेजने के आदेश जारी कर दिए। पुलिस ने बताया कि दोनों युवतियों अपने परिवार के लोगों को ब्यूटी पार्लर का काम करने का कहकर आई थी। भोपाल में रहने वाली युवती शादीशुदा है और उसकी तीन साल की बच्ची है। पति बेरोजगार है इसलिए वह देह व्यापार करने लगी थी। पुलिस ने सुनील के मालनवासा स्थित निवास पर भी छापा मारा था। वहां भी एक युवती बीमार अवस्था में मिली।

 

बांग्लादेशी होने का शक

मालनवासा में कमरे में मिली युवती और सेक्स रैकेट में पकड़ाई कोलकाता की युवती के बारे में पुलिस को शक है कि दोनों बांग्लादेश की रहने वाली हैं। इस बारे में पुलिस जानकारी जुटाने में लगी है