Niranjan Sharma

ग्रा

दो बार प्रदेश में मंत्री पद को सुशोभित कर चुके राजमणि पटेल की सक्रिय राजनीति का एक तरह से अंत हो गया था ! उन्हें विधायकी की टिकट भी मिलनी बंद हो गई थी लेकिन कांग्रेस और राहुल भैया की कृपा से अंततः उनकी दिल्ली की टिकट बन गई !

राजमणि पटेल ने सन 81 में “सामयिक निर्णय” नामक एक साप्ताहिक अखबार भी रीवा से निकाला था, जिसका सम्पादन भाई सुदामा शरद जी किया करते थे ! मितभाषी, साधारणजनों के प्रति सहृदयता और दिखावे से दूर रहना राजमणि जी की विशेषता रही है ! पिछले लोकसभा चुनाव में वे सतना सीट से उम्मीदवार अजय सिंह राहुल का प्रचार करने के लिए आये थे और उन्हें इस हेतु एक नया वाहन स्टार ऑटोमोबाइल से उठवा कर दिया गया था ! गणेश सिंह के खिलाफ लड़े जा रहे उस चुनाव में राजमणि पटेल का प्रचार कितना काम आया होगा, नहीं पता परन्तु अजय सिंह राहुल से लगातार जुड़े रहना उनके काम आ गया ! बहुत कम लोग जानते हैं कि एक समय इस नेता का नाम ददुआ डकैत की सरकारी हिस्ट्रीशीट में उसके प्रमुख संरक्षकों की सूची में “ राजमणि, बरौं “ के रूप में दर्ज था हालांकि राजमणि स्वयं कभी अपराधी प्रवृत्ति के नहीं रहे !

बहरहाल ; कांग्रेस के इस ‘सामयिक निर्णय’ से लगभग 70-72 वर्षीय राजमणि पटेल के राजनैतिक जीवन में एक नई सुर्खी आई है !
उन्हें हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं !

Source ¦¦ fb से साभार