भारत की टेनिस सनसनी सानिया मिर्जा ने महिला युगल में अपनी जोड़ीदार और स्विटजरलैंड की मार्टिना हिंगिस के साथ लगातार 36वीं जीत के साथ ही ऑस्ट्रेलियाई ओपन 2016 अपने नाम किया। यह इनका साल का पहला ग्रैंड स्लैम है।

शुक्रवार को हुए मुकाबले में सानिया और हिंगिस ने फाइनल में चेक गणराज्य की जोड़ीदार एंड्रिया हलाकोवा और ल्यूसी हराडेका को 7-6 6-3 सीधे दो सेटो में हराया। इस जीत के साथ ही सानिया और हिंगिस लगातार 36 जीत दर्ज चुकी हैं।

सानिया की यह लगातार 12वीं खिताबी जीत है साथ ही यह सानिया का लगातार तीसरा ग्रैंड स्लैम है। सानिया अब तक 6 ग्रैंड स्लैम जीत चुकी है। इसमें 3 ग्रैंड स्लैम मार्टिना हिंगिस के साथ है।


सानिया को दोहरे ग्रैंड स्लैम की उम्मीद

सानिया मिर्जा और उनके क्रोएशियाई जोड़ीदार इवान डोडिग ऑस्ट्रेलियन ओपन ग्रैंड स्लैम के मिश्रित युगल के सेमीफाइनल में प्रवेश कर गए हैं। सानिया और डोडिग ने क्वार्टर फाइनल में गत चैंपियन लिएंडर पेस और मार्टिना हिंगिस की जोड़ी को सीधे सेटों में 7-6(1), 6-3 से पराजित किया।

यह मुकाबला एक घंटे और 10 मिनट तक चला। टॉप सीड भारत और क्रोएशिया की जोड़ी का सेमीफाइनल में सामना पांचवीं सीड एलीना वेस्नीना और ब्रूनो सुआरेस की जोड़ी से होगा। धीमी शुरुआत के बाद सानिया और डोडिग ने पहला सेट 44 मिनट में जीता।

दूसरा सेट उनके लिए और भी आसान रहा। सानिया अपनी जोड़ीदार हिंगिस के साथ महिला युगल के फाइनल में पहले ही प्रवेश कर चुकी हैं। सानिया इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट के फाइनल में पहली बार पहुंची हैं। इससे पहले, वर्ष 2012 में उन्होंने रूस की एलीना वेस्नीना के साथ जोड़ी बनाकर सेमीफाइनल तक का सफर तय किया था।